एसटीएफ राजीव नारायण मिश्र की टीम ने अन्तर्राजिय अवैध पिस्टल सप्लायर गैंग को किया गिफ्तार

एसटीएफ राजीव नारायण मिश्र की टीम ने अन्तर्राजिय अवैध पिस्टल सप्लायर गैंग को किया गिफ्तार

लखनऊ,उप्र।

एस0टी0एफ0 उत्तर प्रदेश को अन्तर्राज्यीय असलहा तस्करी करने वाले गिरोह के सरगना सहित 05 सक्रिय सदस्यों को 23 अदद पिस्टल मय मैगजीन सहित जनपद हरदोई से गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।  

गिरफ्तार अभियुक्तों का विवरण

आकाष डाबर पुत्र दषरथ, नि0 आगनबाड़ी के पास अंजड़, थाना अंजड़, जिला बड़वानी, म0प्र0,सौरभ यादव पुत्र गुलाब यादव नि0 ग्राम मठिया विष्णूपुर, थाना तरवां, आजमगढ़,केहर सिंह यादव पुत्र हरिराम यादव नि0 ग्राम दुबकी, थाना निजामाबाद, आजमगढ़,सद्दाम हुसैन पुत्र मो0 आजम, नि0 जमीलपुर, थाना महराजगंज, आजमगढ़,गौरव मिश्र पुत्र अखिलेष मिश्र, नि0 बड़गांव, जीयनपुर,आजमगढ़।

बरामदगी

23 अदद पिस्टल मय मैगजीन .32 बोर,20 अदद मैगजीन .32 बोर सिल्वर रंग की,03 अदद मैगजीन .32 बोर काले रंग की (कुल 46 अदद मैगजीन),06 अदद मोबाईल फोन,रूपये 12,100/- नगद बरामद किया गया।

विगत दिनोें से एस0टी0एफ0, उत्तर प्र्रदेश को अन्तर्राज्यीय असलहा तस्कर गिरोह के सक्रिय होने की सूचनाएं प्राप्त हो रही थी। इस सम्बन्ध मेें राजीव नारायण मिश्र, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, एस0टी0एफ0, उ0प्र0 लखनऊ द्वारा एस0टी0एफ0 की विभिन्न इकाईयोें व टीमों को अभियान चलाकर अभिसूचना संकलन एवं कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया। जिसके अनुपालन मेें अमित कुमार नागर, पुलिस उपाधीक्षक, एसटीएफ, उ0प्र0 के निर्देशन में उपनिरीक्षक मनोज कुमार पाण्डेय एवं उ0नि0 विनोद सिंह के नेतृत्व में एसटीएफ टीम गठित कर अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ करते हुए अभिसूचना तन्त्र को सक्रिय किया गया। 

अभिसूचना संकलन के दौरान विश्वसनीय स्रोत के माध्यम से ज्ञात हुआ कि मंगलवार को असलहा तस्करी करने वाले गिरोह के सरगना सहित 05 सक्रिय सदस्य, मध्य प्रदेश के बड़वानी जनपद से आने वाले अवैध असलहा की लेन-देन हेतु सण्डिला रेलवे स्टेशन के पास जनपद-हरदोई में एकत्र होने वाले है। इस सूचना को विकसित करते हुये एस0टी0एफ0 टीम द्वारा मुखबिर के बताये स्थान पर पहुचकर घेराबन्दी कर उक्त अभियुक्तों को आवश्यक बल प्रयोग करते हुए गिरफ्तार कर लिया गया। जिनसेे उपरोक्त बरामदगी हुई।

गिरफ्तार अभियुक्त आकाष डाबर ने पूछताछ पर बताया कि वह मध्य प्रदेश के खण्डवा व उसके आस पास के क्षेत्रों में स्थानीय लोगों द्वारा अवैध असलहे (पिस्टल) तैयार किये जाते है, उनसे एकत्रित करके उ0प्र0, म0प्र0, हरियाणा, व मुम्बई (महाराष्ट्र) आदि प्रदेशों के अवैध असलहा तस्करों को भारी मुनाफा लेकर ‘सप्लाई’ करता है। वह इन पिस्टलों को कागज के गत्ते में टेप से पैककर बैग में रखकर ट्रेन के माध्यम से ले आता था। पूछताछ पर यह भी बताया कि अब तक इस प्रकार बड़ी संख्या में पिस्टलों की आपूर्ति कर चुका है। 

अभियुक्त सौरभ यादव निवासी अजामगढ़ ने बताया कि वह आकाष डाबर व मुगेर (बिहार) से अवैध असलहे (पिस्टल) की तस्करी करने वाले लोगों से पिस्टल मंगाकर पूर्वी व पश्चिमी उ0प्र0 के हरदोई, लखनऊ, बरेली, आजमगढ़, अम्बेडकरनगर, मऊ, बलिया, वाराणसी, भदोही, जौनपुर व प्रयागराज आदि जनपदों में अपने ‘कैरियर’ के माध्यम से मुनाफा लेकर बेच देता है।  

गिरफ्तार अभियुक्त केहर सिंह यादव, सद्दाम व गौरव मिश्र निवासी आजमगढ़ ने पूछताछ पर बताया कि हम लोग अवैध असलहा तस्कर सौरभ यादव से पिस्टल खरीदकर  विभिन्न लोगों को अपना मुनाफा लेकर बेच देते थे। गहनता से पूछताछ प्रचलित है। अभियुक्तगणों के अन्य आपराधिक इतिहास के सम्बन्ध में छानबीन की जा रही है।

गिरफ्तार अभियुक्तों को थाना सण्डिला, जनपद-हरदोई में दाखिल कर उनके विरूद्ध मु0अ0सं0- 601/2019 अन्तर्गत धारा-3/25 आम्र्स एक्ट में पंजीकृत कराया गया। अग्रिम विधिक कार्यवाही स्थानीय पुलिस द्वारा की जा रही है।

 

Comments