मनमानी के चलते गावों में लगा गन्दगी का अम्बार   

मनमानी के चलते गावों में लगा गन्दगी का अम्बार   

अश्वनी कुमार की रिपोर्ट मछरेहटा

 

उत्तर प्रदेश जनपद सीतापुर की तहसील मिश्रिख के ब्लाक मछरेहटा में ग्राम पंचायत मछरेहटा में मोहल्ला कजियारा तकिया बाजार के पास मछरेहटा से मिश्रिख रोड मोहल्ला कजियारा में नालियों में लगा कूड़े का ढेर मोहल्ले वालों का कहना है कि यहां सफाई कर्मी कभी आता ही नहीं है l

जिससे गंदे पानी की वजह से और कूड़े के ढेर लग जाते हैं और नाली की वजह से हम लोगों को बीमारी का शिकार होना पड़ रहा है यहां के अधिकारी भी इन सफाई कर्मियों को अपनी हां हुजूरी में लगाए रहते हैं सफाई कर्मी से परेशान मोहल्लेवासी अपने आप नालियों की सफाई करते हैं l

सीतापुर । जिले के अधिकांश सफाई कर्मियों द्वारा अपने दायित्वों का निर्वहन नहीं किए जाने से गांवों में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। ग्राम प्रधान व एडीओ पंचायत की कृपा से सफाईकर्मी घर बैठे वेतन प्राप्त कर रहे हैं। उन्हें प्रधानमंत्री के स्वच्छता अभियान से भी कुछ लेना-देना नहीं है।

विकास खंड का शायद ही कोई ऐसा गांव होगा, जहां के सफाईकर्मी हाथ में झाड़ू लेकर गांवों की सफाई करते नजर आएं। विधायक, सांसद व प्रदेश के मंत्री भी प्रधानमंत्री के आह्वान पर स्वच्छता अभियान को सफल बनाने के लिए हाथ में झाड़ू लेकर सड़क पर निकलने में गुरेज नहीं करते कितु सफाईकर्मी ऐसा करते कहीं भी नजर नहीं आ रहे हैं। उनका प्रयास है कि ग्राम प्रधान व एडीओ पंचायत को खुश रखें, वेतन मिलता रहेगा। गांव में गंदगी है तो उनकी बला से।

ग्रामीण बाजारों  की नालियां जाम पड़ी हैं, इन गांवों के सार्वजनिक मार्गों पर गंदगी का ऐसा अंबार लगा हुआ है कि उस पर चलना ग्रामीणों के लिए कठिन हो गया है। विभाग के अधिकारी न तो सफाई व्यवस्था का जायजा लेते हैं न ही शिकायतों पर कार्यवाही करते है इससे स्थिति बदतर होती जा रही है।

स्कूलों आदि में गंदगी की भरमार है ग्राम प्रधान अपने निजी लाभ के लिए सफाई कर्मियों का खुली छूट देकर सरकारी धन का दुरूपयोग करा रहे हैं।

अश्वनी कुमार की रिपोर्ट मछरेहटा

Comments