मथुरा की टॉप खबरे

मथुरा  की टॉप खबरे

मजबूत अर्थव्यवस्था के लिए जरूरी हैं ग्रामीण प्रष्ठभूमि के स्वरोजगारः श्यामनंदन
मथुरा। उत्तर प्रदेश गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष प्रोफेसर श्यामनंदन सिंह ने कहा कि भारतीय ग्रामीण अर्थव्यवस्था का आधार वास्तव में स्वरोजगार ही है जब स्वरोजगार घटने लगेंगे अर्थव्यवस्था चरमरा जाएगी और चरमराई हुई अर्थव्यवस्था को केवल किसान ही बचा सकता है

विशिष्ट अतिथि डॉ बृजेश कुमार सिंह कुलपति वेटरनरी विश्वविद्यालय मथुरा ने कहा कि जब तक ग्रामीण पृष्ठभूमि के स्वरोजगार विकसित नहीं होंगे हमारी अर्थव्यवस्था ठीक नहीं हो सकती है अर्थव्यवस्था को ठीक करने के लिए ग्रामीण स्तर पर जागरूक कार्यक्रम किए जाएं किसानों को जागरूक किया जाए और किसान खेती और पशुपालन को आधार मानकर के स्वरोजगार करें तो खेती और पशुपालन घाटे का सौदा नहीं हो सकता है।

वहभारत रत्न महामना पंडित मदन मोहन मालवीय की पुण्यतिथि पर भारतीय ग्रामीण अर्थव्यवस्था का आधार स्वरोजगार विषय पर आयोजित व्याख्यान कार्यक्रम मंे बोल रहे थे। इस अवसर पर मुख्य वक्ता वरिष्ठ पत्रकार सुमंत भट्टाचार्य ने कहा कि ग्रामीण भारत में जो किसान रहता है जब तक उसके उत्पादों को मूल्य अच्छा नहीं मिलेगा तब तक किसान की दुर्दशा बरकरार रहेगी इस दुर्दशा को खत्म करने के लिए किसान के उत्पादों का उचित मूल्य मिलना चाहिए

दूध भी और गांव में बने उत्पादों का मूल्य बाजार में अधिक मिलना चाहिए आशीर्वचन के रूप में श्री राम कथा वाचक सुनील कौशल महाराज ने कहा कि जब तक हम ग्रामीण भारत की परिवेश को अपनाएंगे नहीं और उसे भूलते जाएंगे तब तक हम बनावटी जीवन ही जी सकते हैं

पुरखों की जमीन पुरखों की मकान को छोड़कर के आज शहर में दो कमरे के फ्लैट में रहने वाला व्यक्ति अपने को विकसित मानता है लेकिन आने वाला समय पुरानी और देसी चीजों को ही अपनाने का है इस अवसर पर कार्यक्रम संयोजक वीरपाल  सिंह ने कहा कि वास्तव में हमें ग्रामीण परिवेश को ही अपनाना चाहिए कार्यक्रम में आए हुए

अतिथियों का धन्यवाद और दूरदराज से आए हुए सभी किसान भाइयों का धन्यवाद किया और शहरी पृष्ठभूमि के प्रबुद्ध जनों को इस कार्यक्रम के लिए विशेष रूप से धन्यवाद दिया कि ग्रामीण क्षेत्र के किसानों को और स्वरोजगार को केवल शहरी पृष्ठभूमि के लोग बढ़ावा दे सकते हैं इस अवसर पर संस्था के सचिव विष्णु कुमार शर्मा ,नितिन कुमार शर्मा कोषाध्यक्ष ,अंकित गोस्वामी पवन कुमार अग्रवाल ,जगबीर सिंह ,भगवान स्वरूप, लक्ष्मीनारायण अग्रवाल ऋषि, आदि उपस्थित रहे।
 

 

राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता में मथुरा की बेटियों ने जीते दो कांस्य पदक
मथुरा। मेरठ मै सम्पन्न हुई दो दिवसीय राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता में बृज की तेरह वर्षीय बेटी मुस्कान चैधरी ने पैंतालीस किलोभार वर्ग में अपने प्रतिद्वंद्वियों को मात देते हुए कांस्य पदक जीता। आठ वर्ष की अपर्णा सिंह ने पैंतीस किलोभार वर्ग मंे कांस्य पदक जीत कर मथुरा का नाम रोशन किया।

इस प्रतियोगिता का आयोजन ट्रेडिशनल शोटो काई फेडरेशन के तत्वावधान में हुआ। राष्ट्रीय स्तरीय कराटे प्रतियोगिता में देश के विभिन्न प्रान्तों से कुल सात सौ प्रतियोगियों ने सहभागिता की तथा पैरा मिलिट्री फोर्स के साथ ही सीआरपीएफ की टीमों ने भी अपने हुनर का प्रदर्शन किया तथा पैरा मिलिट्री फोर्स तथा सीआरपीएफ के अधिकारी भी मौजूद रहे। प्रथम स्थान उत्तर प्रदेश, द्वितीय उत्तराखण्ड व तृतीय स्थान दिल्ली प्रदेश ने प्राप्त किया।

मुस्कान चैधरी ने अपनी जीत का श्रेय अपने कोच चन्द्रवीर सिंह को दिया। जिनकी देखरेख व कुशल निर्देशन में वह इस प्रतियोगिता के लिये पिछले एक वर्ष से कड़ा अभ्यास कर रही थीं। इस दौरान मुस्कान तथा अपर्णा के माता पिता ने भी अपनी बेटियों के लिये भरसक प्रयत्न किये। अपनी बेटियों की जीत को उन्होंने बृज की समस्त बेटियों की जीत बताकर स्वयं को गौरवान्वित होना व एक अविस्मर्णीय छड़ बताया ।

फामा अकेडमी मथुरा के अध्यक्ष व मुस्कान तथा अपर्णा सिंह के कोच चन्द्रवीर सिंह ने मुस्कान व अपर्णा सिंह की जीत का सेहरा उनकी कड़ी मेहन , लगन व अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित होना बताया।ं

 

यमुना महोत्सव के लिये हुई बैठक
मथुरा। श्री बृजयात्रा सेवा संस्थान द्वारा आयोजित होने वाले यमुना महोत्सव  की आवश्यक बैठक दयालु हॉस्पिटल पर आयोजित हुई। अध्यक्ष नरेन्द्र एम. चतुर्वेदी कघ् कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया इस बार विशेष आकर्षण 1008 स्वर्ण पुष्पों से यमुना माँ का शृंगार और 501महिलाओं द्वारा पारम्परिक वेश मे शोभायात्रा से होगा।

डॉ दीपा अग्रवाल और रुचि अग्रवाल ने यमुना प्रदूषण मुक्ति पर जिला स्तरीय प्रतियोताओं की बात कही। अनुपम गौतम ने बताया की बृज की सान्स्क्रतिक विरासत कघ् दर्शन यमुना महोत्सव मे होंगे ब्रजभाषा काव्य साण्झी बृज की लोक कलाओं का आनंद सभी को प्राप्त होगा ।

कार्यक्रम संयोजक हरिओम अग्रवाल ने जन जन को कार्यक्रम से जोड़कर माँ यमुना का आशीर्वाद लेने का निवेदन किया ।
बैठक मे कवि चन्द्र प्रकाश शर्मा, सतीश सिंह, डॉ. सीमा मिश्रा, रानी गौतम, सुषमा सिंह, राकेश परिहार, महेश अग्रवाल, जिलाध्यक्ष  नरेन्द्र गर्ग  आदि  उपस्थित रहे स

 

डेंगू की गलत रिपोर्ट देने पर पैथोलॉजी पंजीकरण होगा निरस्त
मथुरा।  शहर एवं देहात में एडीज इजिप्टाई यानि टाइगर मच्छर ने दस्तक दे दी है। बीमारी फैलाने वाला यह मच्छर अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहा है। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की परेशानी बढ़ गई है। कुछ पैथोलॉजी संचालक आर्थिक लाभ के लिए फर्जी रिपोर्टिंग कर रहे हैं।

इससे जांच कराने एवं करने वालों का लाभ है।  सीएमओ डा.शेर सिंह के निर्देश पर स्वास्थ्य अफसर अपने-अपने क्षेत्र में भ्रमण करने में लगे हैं। सीएमओ ने बताया कि डेंगू को लेकर दी जा रही गलत रिपोर्ट पर स्वास्थ्य विभाग सख्त कदम उठा रहा है। फर्जी रिपोर्ट पर पैथोलॉजी का तुरंत पंजीकरण निरस्त होगा। साथ ही इस बारे में आईएमए को भी पत्र लिखा जाएगा।

मादा एडीज इजिप्टाई मच्छर डेंगू के विषाणु स्वस्थ मनुष्य तक पहुंचाती है। मच्छर घरों के अंदर अंधेरी जगहों एवं बाहर ठंडी जगकों पर रहता है। यह स्वच्छ पानी के बर्तनों में अंडे देता है।घर के अंदर एकत्रित करने वाले बर्तनों,पानी की टंकियों,वाटर कूलर, पुराने टायर,बाल्टी, एवं अन्य फेंके हुए बर्तन तथा कबाड़ जिसमें पानी काफी समय तक एकत्र रहता है में मच्छर का प्रजनन होता है। वर्षा के बाद जब मच्छर पनपने हैं तो यह रोग महामारी का रूप ले लेता है।

अचानक तेज बुखार आना,आंखों के पीछे दर्द होना, तेज सिर दर्द, मांस पेशियों एवं जोड़ों में दर्द, जी मिचलाना,उल्टी होना,भूख न लगना, मुंह का स्वाद खराब होना, कब्ज होना, पेट दर्द की शिकायत,त्वचा पर लाल चकत्ते पड़ना, कमजोरी होना,अत्यधिक थकावट आदि।

अपने आस-पास सफाई रखें, कीटनाशक दवा का छिड़काव कराएं, मच्छरदानी लगाकर सोएं, दिन में पूरे बदन को ढकने वाले कपड़े पहनें, नालियों की सफाई रखें, पानी एकत्रित न होने दें। एकत्रित पानी में कुछ बूंद मिट्टी तेल,जला मोबीऑयल डालें। परेशानी होने पर तुरंत चिकित्सक से परामर्श करें।

Comments