बुधवार को हुई बूंदाबांदी से  किसान चिंतित

बुधवार को हुई बूंदाबांदी से  किसान चिंतित

मोहनलालगंज लखनऊ

राजधानी में बुधवार की सुबह अचानक बदले मौसम ने  किसानों के चेहरे की मुस्कान छीन ली  मौसम  को देखते हुए किसानों ने क्षेत्र में चल रही कटाई को रोक दिया काले बादल और धूल  भरी आंधी ने किसानों को चिंता में डाल दिया गेहूं की कटाई कर रहे हैं किसान राजकुमार  दिनेश कुमार  मनोज कुमार रामविलास राजाराम  के मुताबिक इस वक्त गेहूं की कटाई जोरों से चल रही है और अभी  किसानों की फसल 70% खेत में ही खड़ी है 30% कट चुकी है ऐसे में मंगलवार को मौसम ने अपने मिजाज बदल दिए

जिससे किसानों के अंदर फसल को लेकर चिंता बढ़ गई किसानों का कहना है कि ऐसे वक्त पर अगर आंधी के साथ अगर बारिश होती है तो गेहूं की फसल पूरी तरह चौपट हो जाएगी फसल का सबसे अधिक नुकसान खेत में कटी पड़ी फसल का होगा वहीं किसान दिनेश कुमार का कहना है कि हर साल के मुताबिक इस साल गेहूं की फसल काफी अच्छी है और उत्पादन भी अधिक होने के आसार दिखाई दे रहे हैं

बारिश हुई तो होगा भारी नुकसान

किसान मेवालाल बताते हैं कि खून पसीने मेहनत से उगाई गेहूं की फसल खेतों में  तैयार खड़ी है और इस वक्त अगर बारिश होती है तो किसानों की कमर टूट जाएगी बारिश होने से खेत में खड़ी गेहूं  की बालिया टूट कर नीचे गिर  जाएंगी और नीचे गिरी बालियां मिट्टी में लेस कर बेकार हो जाएंगी जिससे गेहूं निकालना मुश्किल हो जाएगा

15 दिन कुदरत साथ दे तो कट जाएगी फसल

क्षेत्र के लोगों को कहना है कि कुदरत अगर 15 दिन साथ दे दे तो गेहूं की फसल लगभग 90%  कट जाएगी  अगर इससे पहले बारिश हो जाती है तो फसल को भारी नुकसान  होगा और किसानों के सामने संकट खड़ा हो सकता

Comments