फिल्म 'दंगल' से क्रुसेडर दुर्गा शक्ति नागपाल को किस चीज़ ने किया प्रेरित, जाने यहाँ

फिल्म 'दंगल' से क्रुसेडर दुर्गा शक्ति नागपाल को किस चीज़ ने किया प्रेरित, जाने यहाँ

एक तरफ़ जहाँ पूरी दुनिया 'आयरन लेडी' से काफ़ी प्रभावित है जो देश के उत्तरी भाग में रेत खनन माफिया से लड़ते हुए एक धर्मयुद्ध बन गई,

वही आप यह जानकर हैरान हो जाएंगे कि दुर्गा शक्ति नागपाल को इसकी प्रेरणा कहाँ से मिली है! दुर्गा शक्ति नागपाल ने हमें बताया कि उन्हें इसकी प्रेरणा आमिर खान अभिनीत प्रेरणादायक और क्रांतिकारी कहानी "दंगल" से मिली है।

दुर्गा शक्ति नागपाल ने एक सभा में बात करते हुए साझा किया कि कैसे फिल्म "दंगल" ने उन्हें प्रेरित किया और कहानी के संदर्भ के साथ 'सपनों' को परिभाषित किया है जो दर्शकों के दिलों में अपनी जगह बनाते हुए बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुई थी। उन्होंने कहा, “हम सभी जानते हैं कि दंगल पहलवान महावीर सिंह फोगट की वास्तविक जीवन की कहानी पर आधारित है। बहुत अच्छे पहलवान होने के बावजूद, दुर्भाग्यवश महावीर सिंह देश के लिए स्वर्ण पदक नहीं जीत पाए। इससे भी ज़्यादा, उनके पास कोई बेटा भी नहीं था जो उनके सपने को पूरा कर सके। फिर एक दिन, उनके पड़ोसियों ने उनसे शिकायत करते हुए कहा कि उनकी बेटियों ने उनके बेटे को पीट कर लाल नीला कर दिया है और यह सुनने के बाद महावीर सिंह को एक सुनहरा अवसर मिला, बाकी सब इतिहास है जिससे हर कोई वाकिफ़ रखता है। हमारे देश के पास आज सर्वश्रेष्ठ महिला पहलवान हैं। मैं जो कहना चाह रही हूं वह यह है कि अगर हम सभी को मात्र एक जीवन भर मिलता है, जो मुझे आशा है कि आप सभी इस पर विश्वास करते हैं, तो इसे क्यों नहीं अत्यंत क्षमता के साथ जिया जाए!"

सबसे महत्वाकांक्षी और सफल यात्रा के साथ, वह एक भारतीय अफ़सर, सिविल सेवक और भारतीय प्रशासनिक सेवा के उत्तर प्रदेश कैडर में अधिकारी हैं। वह भारत के केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री के ओ.एस.डी (विशेष कर्तव्य पर अधिकारी) के रूप में तैनात हैं। अपनी निरंतर लड़ाई लड़ते हुए, दुर्गा भ्रष्टाचार और अवैध रेत खनन के खिलाफ बड़े पैमाने पर शुरू किये गए अपने अभियान के बाद लोगों के सामने आई है।

लिंग में भेदभाव न करते हुए और समानता को एक नई परिभाषा देते हुए, फिल्म दंगल में आमिर खान ने महावीर सिंह फोगट की भूमिका निभाई है, जो एक ऐसा व्यक्ति था जिसने अपनी बेटियों गीता फोगट और बबीता कुमारी को कम उम्र में कुश्ती सिखाई थी। दुर्गा द्वारा अपनी कहानी को हमारे साथ साझा करने के बाद, हम निश्चित रूप से दुनिया पर छा जाने के लिए तैयार हैं!  

 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments