नही रहे ’दामोदराचार्य फलाहारी बाबा 

नही रहे ’दामोदराचार्य फलाहारी बाबा 


शोक व्यक्त करने को राजनैतिक, सामाजिक, व्यापारिक दिग्गजों के अलावा हजारों का जुटा मजमा

 


बाराबंकी।

तहसील हैदरगढ़ क्षेत्र के कादीपुर बाजार फलाहारी आश्रम के मुख्य कर्ता-धर्ता 94 वर्षीय स्वामी श्री दामोदराचार्य याज्ञिक फलाहारी जी महाराज का बीती रात हृदयाघात से निधन हो गया। उनका अंतिम संस्कार वैदिक मंत्रों के उच्चारण के बीच पलौली गोमती घाट पर किया गया। इस मौके पर फलाहारी बाबा को अंतिम विदाई देने के लिए विभिन्न राजनीतिक दलों एवं सामाजिक तथा व्यापारिक क्षेत्र से जुड़े तमाम दिग्गजों सहित हजारों का मजमा जुटा। जिसमें हिंदू मुस्लिम सहित सभी जात धर्म के लोग शामिल थे। अयोध्या धाम कौशलेंद्र सदन से जुड़े व लगभग 30 वर्ष पूर्व कादीपुर आश्रम में पधारे फलाहारी बाबा ने कुछ ही समय में अपनी ख्याति दूर-दूर तक फैला दी।

उन्होंने इससे पूर्व पलौली, संतोषपुर, नैपुरा, गोकुला पुल सहित कई स्थानों पर अध्यात्मिक निवास किया। संत श्री ने इस दौरान कई मंदिरों का निर्माण कराया साथ ही कई पुराने मंदिरों का जीर्णोद्धार भी कराया। वैष्णव भक्ति धारा से जुड़े दामोदरा आचार्य फलाहारी बाबा ने युवा अवस्था में ही वैराग्य को अपना लिया था। पता चला है कि वह छपरा बिहार के रहने वाले थे। फलाहारी बाबा अध्यात्म एवं तमाम ग्रंथों के ज्ञाता तो थे ही अलबत्ता सामाजिक सरोकारों में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते थे।  विशेष मौके पर मुस्लिम भाइयों के बीच में भी नजर आते थे।

आज जैसे ही उनके निधन की खबर आम हुई कादीपुर आश्रम पर शोक संवेदना व्यक्त करने वालों का तांता लग गया। सीमावर्ती जनपदों सहित दूसरे प्रान्तों से भी उनके अनुयाई यहां पर पहुंचने प्रारंभ हो गए। स्वामी जी का अंतिम दर्शन करते समय सभी की आंखों से आंसुओं की अविरल धारा भ रही थी। महंत बाबा लालता दास जी सहित तमाम सन्त महात्माओं ने उन्हें अंतिम विदाई दी। तो वहीं इस मौके पर श्रीमद्भागवत गीता का भी पाठ हुआ। अयोध्या धाम कौशलेंद्र सदन से आए नरेंद्र दास शास्त्री ने वैदिक मंत्रों के साथ विधि पूर्वक फलाहारी बाबा का दाह संस्कार गोमती घाट पर करवाया।

इस मौके पर क्षेत्र के युवा राजकुमार सिंह ने महती भूमिका का निर्वाहन किया। फलाहारी बाबा के निधन पर श्री बाबा प्रेमदास जी की कुटिया के महंत बाबा लालता दास जी महाराज, भाजपा दरियाबाद विधायक सतीश चन्द्र शर्मा, हैदरगढ़ विधायक बैजनाथ रावत, पूर्व सांसद रामसागर रावत, पूर्व विधायक राम मगन रावत, सामाजिक कार्यकर्ता कृष्ण कुमार द्विवेदी ‘राजू भैया‘, भाजपा नेता भगवंत लाल रावत, बाबा राम कृष्ण दुबे, रंगनाथ मिश्रा, मुन्ना प्रधान, ,बलराम द्विवेदी, राम पदारथ तिवारी, राकेश गिरी, विनोद कुमार, लवलेश अवस्थी, नृपेन्द्र तिवारी, सहित हजारों लोग उपस्थित थे।
 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments