गृहमंत्री अमित शाह 15 अगस्त को श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराएंगे?

गृहमंत्री अमित शाह 15 अगस्त को श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराएंगे?

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने और घाटी में धीमे-धीमे स्थिति सामान्य की ओर होने के बाद अब इस बात की चर्चा ने जोर पकड़ लिया है कि क्या भाजपा अध्यक्ष और देश के गृहमंत्री अमित शाह 15 अगस्त को श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराएंगे? मीडिया रिपोर्ट्‍स के मुताबिक शाह 14 अगस्त को श्रीनगर जा सकते हैं।

अनुच्छेद 370 हटाने के केंद्र सरकार के फैसले के बाद ही इस बात की अटकलें लगाई जा रही है कि गृहमंत्री जल्द ही कश्मीर घाटी का दौरा करेंगे। अब जब घाटी में स्थिति सामान्य हो रही है और बकरीद का त्योहार शांतिपूर्वक निपट गया है तब इस बात की संभावना काफी बढ़ गई है कि शाह जल्द ही घाटी का दौरा करेंगे। अटकलें इस बात की भी लगाई जा रही हैं कि शाह 15 अगस्त को श्रीनगर के लाल चौक पर झंडा फहरा सकते हैं।

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के केंद्र सरकार के फैसले के बाद से ही राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल घाटी में डेरा जमाए हुए हैं और स्थिति को सामान्य करने की कोशिश कर रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्‍स के मुताबिक गृहमंत्री अमित शाह 15 अगस्त को श्रीनगर के लाल चौक पर झंडा फहराना चाहते हैं और इसको लेकर उनकी एनएसए अजीत डोभाल के साथ चर्चा भी हो चुकी है।

अगर गृहमंत्री अमित शाह 15 अगस्त को कश्मीर के लाल चौक पर झंडा फहराते हैं तो यह भी एक ऐतिहासिक कदम होगा। देश के मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1992 में भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी के साथ झंडा फहराया था। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद और जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद अगर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह लाल चौक पर तिरंगा फहराते हैं तो इसका भी फायदा पार्टी को मिलेगा।

हर पंचायत पर तिंरगा फहराना भी चुनौती : जम्मू- कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के फैसले के एक हफ्ते के बाद घाटी में शांति व्यवस्था बनाए रखना अब भी सुरक्षा बलों के लिए एक बड़ी चुनौती बना हुआ है। 15 अगस्त को देखते हुए घाटी में सुरक्षा व्यवस्था और चौकस कर दी है। इस बार स्वतंत्रता दिवस पर जम्मू कश्मीर में हर ग्राम पंचायत में तिरंगा फहराने के निर्देश सरकार ने पहले ही जारी कर दिए थे।

ऐसे में अब जबकि अनुच्छेद 370 हटने के बाद घाटी में लंबे तनाव के बाद अब स्थिति धीरे–धीरे सामान्य हो रही है तब देखना होगा कि तिरंगा फहराने का निर्देश कितना अमलीजामा पहनता है । वहीं मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक सुरक्षा से जुड़ी एजेंसियों ने गृहमंत्री अमित शाह के कुछ भी कहने से बच रही है।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments