मोदी के शपथ ग्रहण समारोह की खास बातें.

मोदी के शपथ ग्रहण समारोह की खास बातें.

नरेन्द्र मोदी 30 मई को शाम 7 बजे प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। मोदी लगातार दूसरी बार भारत की कमान संभालेंगे। उनका शपथ ग्रहण समारोह कई मायनों में बेहद खास होगा

मोदी के शपथ ग्रहण समारोह की खास बातें.

  • पिछली बार की तरह ही इस बार भी नरेन्द्र मोदी का शपथ ग्रहण समारोह राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में होगा। यह चौथी बार हैए जब कोई प्रधानमंत्री किसी हॉल की बजाय राष्‍ट्रपति भवन में शपथ लेगा। इससे पहले अटलबिहारी वाजपेयी और चंद्रशेखर ने यहां शपथ ली थी।
  • वीवीआईपी सहित 8ए000 अतिथि शामिल होंगे। यह अब तक की सर्वाधिक संख्या होगी।
  •  मोदी ने आज अपने दिन की शुरुआत राजघाट पर महात्मा गांधी और अटल समाधि पर अटलजी को श्रद्धांजलि देकर की।
  • समारोह में पाकिस्तान को छोड़कर सभी पड़ोसी देशों के राष्ट्राध्‍यक्षों को आमंत्रित किया गया है। बिम्सटेक के प्रमुख नेताओं को समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रण भेजा गया है। इनमें बांग्लादेशए भूटानए नेपालए श्रीलंकाए म्यांमार और थाइलैंड शामिल हैं। किर्गिस्तान के राष्ट्रपति तथा मॉरीशस के प्रधानमंत्री को भी शपथ ग्रहण समारोह के लिए आमंत्रित किया गया है।
  • समारोह के लिए उद्योगपति मुकेश अंबानीए गौतम अडानीए रतन टाटाए अजय पिरामलए जॉन चेम्बर्स और बिल गेट्स के साथ ही शाहरुख खानए रजनीकांतए पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ और बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवालए पूर्व धावक पीटी उषाए क्रिकेटर राहुल द्रविड़ए अनिल कुंबलेए जवागल श्रीनाथए हरभजन सिंहए बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद और जिम्नास्ट दीपा करमाकरए कंगना रनौतए संजय लीला भंसालीए करण जौहर को निमंत्रण भेजा गया है।
  • कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे। साथ ही संप्रग की प्रमुख सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री डॉण् मनमोहन सिंह भी समारोह में मेहमान बनेंगे।
  • अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ;आईएमएफद्ध की प्रबंध निदेशक एवं चेयरमेन क्रिस्टीन लेगार्ड को भी न्योता भेजा गया है।
  • मोदी ने देश के सभी राज्यों के राज्यपालों और मुख्‍यमंत्रियों को आमंत्रित किया है। उन्होंने कमल हासन जैसे अपने कट्टर विरोधियों को भी न्योता भेजा है।
  • कार्यक्रम के लिए 6 फुट ऊंचा स्टेज बनाया गया है।
  • कार्यक्रम की समाप्ति के बाद करीब 600 लोगों को राष्ट्रपति भवन के भीतर ष्हाई टीष् के लिए आमंत्रित किया जाएगा। बाकी मेहमानों के खाने.पीने की व्यवस्था राष्ट्रपति भवन के बाहर प्रांगण में की जाएगी। हाई टी में राजभोग और समोसा सहित तमाम व्यंजन होंगे।
  • शपथ ग्रहण समारोह में शरीक होने वाले अतिथियों के लिए ष्पनीर टिक्काष् जैसे हल्के जलपान की व्यवस्था होगी। मेहमानों के लिए खास वेज और नॉनवेज दोनों प्रकार के भोजन की तैयारियां की गई हैं।
  • प्रधानमंत्री और उनकी मंत्रिपरिषद के शपथ ग्रहण कार्यक्रम के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की मेजबानी वाले रात्रिभोज में विदेशी गणमान्य लोगों को राष्ट्रपति भवन रसोई का खास व्यंजन ष्दाल रायसीनाष् परोसी जाएगी। दाल रायसीना बनाने में इस्तेमाल की जानी वाली मुख्य चीजें लखनऊ से मंगाई गई हैं। इसे करीब 48 घंटे तक पकाया जाता है। दाल रायसीना की तैयारी मंगलवार को शुरू की गई थी।
  • अतिथियों के आगमन को देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा के कड़े इंतजाम करते हुए दिल्ली पुलिस एवं सुरक्षा बलों के 10 हजार जवानों को तैनात किया गया है। करीब 2 हजार जवानों को मोदी और विदेशी मेहमानों के आवागमन के मार्ग पर तैनात किया गया है।
  • यातायात को लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं और यातायात परामर्श जारी किया गया है। गुरुवार को शाम 4 बजे से रात 9 बजे तक नई दिल्ली जिले में कई सड़कें बंद रहेंगी और मोटर वाहन चालक इन सड़कों पर आने से बचें।
  • मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ और किर्गिज गणराज्य के राष्ट्रपति सोरोनबे जीनबेकोव ने भी इस कार्यक्रम में शरीक होने की पुष्टि की है। बांग्लादेश के राष्ट्रपति अब्दुल हामिदए श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेनाए नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओलीए म्यांमार के राष्ट्रपति यू विन माइंत और भूटान के प्रधानमंत्री लोटये शेरिंग ने भी समारोह में शरीक होने की पुष्टि की है। थाईलैंड के विशेष दूत जीण् बूनराच अपने देश का प्रतिनिधित्व करेंगे।
Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments