नई राजनीतिक दल प्रबल भारत पार्टी का हुआ गठन

नई राजनीतिक दल प्रबल भारत पार्टी का हुआ गठन

पटना -

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को देखते हुए बिहार में राजनीतिक दल अपना -अपना प्रत्याशियों को चुनाव में किस्मत आजमाने के लिए अभी से ही कमर कसने लगी है।

जहाँ सम्पूर्ण देशभर में राजनीतिक पार्टी अपनी पहचान बनाने के लिए तरह-तरह के सामाजिक क्षेत्र में कार्य करके लोगों को सदस्य बना रही है।इसी क्रम में बिहार में एक नई पार्टी प्रबल भारत पार्टी का गठन किया गया।

मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि चुनाव आयोग ने प्रबल भारत पार्टी को मान्यता प्रदान किया है। प्रबल भारत पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिलीप कुमार मिश्रा ने आपके अपने अखबार स्वतंत्र प्रभात के स्टेट हेड बिहार संवाददाता ललित किशोर कुमार को बातचीत के क्रम में कहा कि बिहार कि जनता नीतीश कुमार के 15 वर्षो के कामकाज से परेशान होकर एक नये विकल्प की तलाश में है।

उन्होंने यह भी कहा है कि अपनी राजनीतिक रोटियां सेकते रहे और पब्लिक को गुमराह करते रहे।आखिरकार अब पब्लिक ऐसे पाखंडीयो के झांसे में नहीं आने वाली है।उन्होंने कहा कि भाजपा  और राजद कि सरकारों के 30 वर्षो के शासनकाल ने बिहार को सौ साल पीछे धकेल दिया है।इन्होंने अगर कुछ दिया है तो बिहार को बेरोजगारी भुखमरी या फिर दंगे फसाद।

केवल उन्होंने बिहार को ही गुमराह नहीं किया बल्कि पूरे देश को गुमराह किया है, और कहीं ना कहीं उन्होंने संविधान की भी धज्जियां उड़ा कर रख दी है।उन्होने कहा की प्रबल भारत पार्टी समाज के सभी वर्गो के लोगो को साथ लेकर बिहार की जनता को कुशासन से मुक्त कराकर एक नया राजनीतिक विकल्प देगी।

इसलिए प्रबल भारत पार्टी आने वाले बिहार बिधान सभा चुनावों मे सभी 243 सीटों पर अपना उम्मीदवार उतारेगी बेरोजगार गरीबों असहाय सभी धर्मों के लोगों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर एक नई पहचान बनाएगी।

इसके अलावा प्रबल भारत पार्टी दिल्ली विधान सभा चुनाव 2020 मे भी सभी 70 सीटों पे अपने उम्मीदवार उतारेगी क्योंकि पूरा देश समझ चुका है कि जुमलेबाजी अब नहीं चलेगी और अगर बात करें अच्छे दिन की तो अच्छे दिन अभी तक आए नहीं लेकिन प्रबल भारत पार्टी अच्छे दिन जरूर लाएगी और इस देश के अन्नदाता किसानों बेरोजगारों को उनका हक दिलाएगी और नए रोजगार उपलब्ध कराएगी।

Comments