सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट पर पुलिस अधीक्षक की हिदायत बेअसर

सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट पर पुलिस अधीक्षक की हिदायत बेअसर


- व्हाट्सअप, फेसबुक पर अफवाहों का दौर जारी


उरई। 

जिले की कमान संभालते ही पुलिस अधीक्षक डा. सतीश कुमार ने सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने में सावधानी बरतने का फरमान सुनाया था। उन्होंने कहा कि फेसबुक व व्हाट्सअप पर किसी भी सूचना को पोस्ट करते समय उसमें हकीकत का ध्यान रखा जाए।

इसके अलावा किसी भी पोस्ट को शेयर तभी किया जाए जब उसमें सच्चाई हो। यदि कोई झूठी अफवाह या भड़काऊ टिप्पणी सोशल मीडिया पर डाली गई तो कड़ी कार्रवाई होगी। पुलिस अधीक्षक ने आते ही सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट को लेकर सख्त तेवर जरूर दिखाए थे

लेकिन इसके बावजूद सोशल मीडिया पर बच्चा चोर गिरोह के अलावा कई भड़काऊ खबरें पोस्ट की जा रही हैं। आए दिन फेसबुक व व्हाट्सअप पर भड़काऊ पोस्ट नजर आ रही हैं। यही नहीं इन भड़काऊ व झूठी, मनगढ़ंत खबरों को लोगों द्वारा शेयर भी खूब किया जा रहा है।

राजनैति, धार्मिक एवं बच्चा चोर गिरोह एवं अन्य भड़काऊ सामग्री फेसबुक व व्हाट्सअप ग्रुप में पढऩे को मिल रही हैं। पुलिस अधीक्षक की टीम सोशल मीडिया पर क्यों चुप है। ऐसा नहीं कि पुलिस को सोशल मीडिया पर डाली जा रही खबरों की जानकारी न हो पर पुलिस का खुफिया तंत्र कुंभकर्ण की नींद सोता नजर आ रहा है। पुलिस के खुफिया तंत्र को शहर में हो रहे साइबर क्राइम की कोई खबर न हो एेसा हो नहीं सकता पर यह हो सकता है कि सब जानकर भी अनजान बने हुए हैं।

जिन लोगों द्वारा आपत्तिजनक व भड़काऊ पोस्ट डाली जा रही है वह सत्ता के बेहद करीबी हैं जिन पर हाथ डालने से पुलिस भी हिचकती है शायद इसीलिए साइबर क्राइम का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। पुलिस अधीक्षक डा. सतीश कुमार ने बताया कि फेसबुक व व्हाट्सअप पर जो भड़काऊ व आपत्तिजनक पोस्ट शेयर की जा रही हैं उन पर जल्द ही कार्रवाई शुरू की जाएगी

Comments