मोहर्रम की ताजियों का मातम के साथ हसन हुसैन के गमी को लेकर शांतिपूर्वक जुलूस निकाला गया

मोहर्रम की ताजियों का मातम के साथ हसन हुसैन के गमी को लेकर शांतिपूर्वक जुलूस निकाला गया

 


राजधानी लखनऊ के आशियाना कॉलोनी के पराग डेरी चैराहा के पास से मोहर्रम की ताजियों का मातम के साथ हसन हुसैन के गमी को लेकर जुलूस निकाला गया इस जुलूस में भारी संख्या में हिन्दू मुस्लिम समुदाय के लोगों ने भाग लिया ।

  आशियाना कॉलोनी के पराग डेयरी एक ही छत के नीचे मंदिर मजार वर्षों से चली आ रही इस स्थान की ख्याति लोगों में देखने को मिलती है इस स्थान पर सभी लोगों के दुख दर्दों का निवारण बाबा मीरा सैयद हुसैन वह बाबा महाकाल के आशीर्वाद से होती है और साथ ही इसकी एक और विशेषता है जो खाली हाथ आता है वह झोली भर कर ले जाता है।

वही पूर्वजों के जमाने से चली आ रही सैयद हुसैन मीरा सैयद कि ताजियों का जुलूस हमेशा से निकाला जाता रहा है इस स्थान पर पाले तो कुछ कम ताजिया रहती थी लेकिन आप लोगों को प्रति इतनी आस्था की है कि दर्जनों की संख्या में ताजिया का एक साथ जुलूस निकाला गया

जो लगभग पराग डेरी से लगाकर बांग्ला बजाकर बल्ले में ले जाकर ताजिया ठंडी करने का कार्य किया गया मोहर्रम के जुलूस में संख्या में क्षेत्रवासी वह अपनी मनोकामना पूरी करने वाले भक्त और साथ ही मंदिर और मजार की सेवा करना करने

वाले बाबा संजय सोनकर के सानिध्य में इस मुहर्रम का जुलूस संपन्न किया जा सका ताजिया ठंडी होने के बाद सभी भक्तों को बाबा के हाथों से प्रसाद का वितरण किया गया उसके बाद ही सभी भक्त लोग अपने-अपने घरों को जा सके।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments