11 हजार बोल्ट की लाइन के करंट से राज मिस्त्री  की मौत

  11 हजार बोल्ट की लाइन के करंट से राज मिस्त्री  की मौत
  •  लेंटर की सरिया काटते समय हुआ हादसा, एक अन्य मजदूर झुलसा

निगोही/  शाहजहांपुर   

मकान के लेंटर की तैयारी कर रहे राजमिस्त्री की 11000 वोल्ट की लाइन से करंट लगने के कारण झुलस कर मौत हो गई। तथा उसके साथ काम में सहायता कर रहे एक अन्य मजदूर की जान बाल बाल बच गई।

प्रत्यक्षदर्शियों की सूचना पर पहुंचे परिजनों ने राजमिस्त्री उसके सहयोगी मजदूर को इलाज हेतु स्वास्थ्य केंद्र निगोही भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने राजमिस्त्री को मृत घोषित कर दिया। तथा उसके सहयोगी को प्राथमिक उपचार के बाद स्वास्थ्य केंद्र से छुट्टी दे दी।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार निगोही क्षेत्र के ग्राम महौरतल्ला निवासी आजाद (25 साल) पुत्र रामचंद पेशे से राजमिस्त्री था। उसने कुछ दिन पहले ही पास के गांव उन खुर्द निवासी सोनपाल गुर्जर के मकान निर्माण का ठेका 80000 में लिया था।

इसी के तहत उसने अपने गांव के ही साथी रामनिवास,रामौतार को बतौर सहायक अपने साथ रख लिया था। आज सुबह आजाद अपनी लेबर को लेकर काम हेतु उन खुर्द पहुंचा था। तभी उसने लेंटर के सरिया को काटने हेतु मशीन लगाई। तथा सरिया को सीधा करने हेतु मेन रोड पर आया जैसे ही उसने सरिया का एक हिस्सा पकड़ कर ऊपर उठाया।

तभी सरिया का ऊपरी हिस्सा ऊपर से गुजर रही 11000 बोल्ट की लाइन में जाकर टच हो गया। सरिया के टच होते ही 11000 बोल्ट का करंट  उतर आया। आजाद घटना के समय नंगे पैर था। जब तक लोगों ने शोर-शराबा किया तब तक आजाद पूरी तरह झुलस चुका था। और उसका साथी रामनिवास छिटक कर दूर जा गिरा।

आजाद की घटनास्थल पर ही मौत हो गई । सूचना पर पहुंचे परिजनों ने दोनों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र निगोही इलाज हेतु भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने रामनिवास को इलाज के बाद छुट्टी दे दी। और आजाद को मृत घोषित कर दिया। घटना से भयभीत होकर मकान निर्माण कराने वाले मकान मालिक सोनपाल गुर्जर फरार है।

परिजनों ने पुलिस को बिना सूचना दिए हुई है ही मृतक का अंतिम संस्कार कर दिया ।बताया जाता है कि आजाद के परिवार में दो बड़े भाई बादशाह (40 साल) सुनील (35 साल) हैं। वह सबसे छोटा था। आजाद की असमय मौत से उसकी पत्नी सपना उसके मां-बाप का रो रो कर बुरा हाल है। तथा गांव में शोक की लहर दौड़ गई।

 

Comments