न्यायधीश के घर हुई करोड़ो की चोरी में चोरों की गिरेवा तक पहुंची पुलिस

 न्यायधीश के घर हुई करोड़ो की चोरी में चोरों की गिरेवा तक पहुंची पुलिस

 

न्यायधीश के घर हुई करोड़ो की चोरी में चोरों की गिरेवा तक पहुंची पुलिस

कस्बा मड़ावरा में हुई थी चोरी की बरादात

ललितपुर। Vikash tripathi/ Antim kumar jain

 

ललितपुर।

माह अगस्त में कस्बा मड़ावरा में रहने वाले न्यायधीश के यहां हुई करोड़ो की चोरी के मामले में छानबीन में जुटी जनपद पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे है, यह माना जा रहा है कि पुलिस के हाथ चोरी की बारदात देने वाले चोर के गिरेवा तक पहुंच चुके है। अनुमान लगाया जा रहा है कि न्यायाधीश के यहां चोरी की बारदात को अंजाम देने वाले चोरो ने जनपद में ओर भी चोरी की बारदातों को अंजाम दिया होगा। फिलहाल पुलिस द्वारा किये जाने वाले खुलाशे का इंतजार है। 

गौरतलब है कि एक व दो अगस्त की मध्य रात्रि कस्बा मड़ावरा निवासी पंकज  जैन पुत्र नीरज जैन जोकि छत्तीसगढ़ के विलासपुर में न्यायाधीश के पद पर तैनात है। उनके पिता कस्बा निवासी डॉ. नीरज जैन पुत्र वीरेंद्र जैन जोकि कस्बा मड़ावरा में निवास करते हैं।  विगत दो माह पूर्व अज्ञात चोरो ने घर में रोशनदान की जाली तोडक़र घर में घुस गए और करोड़ों के सोने-चांदी के जेवरात समेत साढ़े तीन लाख रुपये नगदी पर हाथ साफ  कर दिया था।

पुलिस ने न्यायधीश के पिता की तहरीर पर अज्ञात चोरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर छानवीन शुरू कर दी। न्यायाधीश के  यहां हुई करोड़ो की चोरी के मामले में छानवीन में जुटी जांच टीमों के हाथ कोई अहम सुराग न लगते देख पुलिस अधीक्षक ने एसटीएफ से मामले की छानवीन करने की अपील की थी, जनपद में वीआईपी के यहां हुई चोरी में एसटीएफ के आने के बाद भी वह चोरी की तलाश नही कर सकी। आखिरकार जनपद पुलिस को ही अहम सुराग मिल गए है, जल्द से जल्द पुलिस वीआईपी के घर चोरी की बारदात को  अंजाम देने वाले को गिरफ्तार कर खुलाश कर सकती है।

माह अगस्त में कस्बा मड़ावरा में रहने वाले न्यायधीश के यहां हुई करोड़ो की चोरी के मामले में छानबीन में जुटी जनपद पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे है, यह माना जा रहा है कि पुलिस के हाथ चोरी की बारदात देने वाले चोर के गिरेवा तक पहुंच चुके है। अनुमान लगाया जा रहा है कि न्यायाधीश के यहां चोरी की बारदात को अंजाम देने वाले चोरो ने जनपद में ओर भी चोरी की बारदातों को अंजाम दिया होगा। फिलहाल पुलिस द्वारा किये जाने वाले खुलाशे का इंतजार है। 

गौरतलब है कि एक व दो अगस्त की मध्य रात्रि कस्बा मड़ावरा निवासी पंकज  जैन पुत्र नीरज जैन जोकि छत्तीसगढ़ के विलासपुर में न्यायाधीश के पद पर तैनात है। उनके पिता कस्बा निवासी डॉ. नीरज जैन पुत्र वीरेंद्र जैन जोकि कस्बा मड़ावरा में निवास करते हैं।  विगत दो माह पूर्व अज्ञात चोरो ने घर में रोशनदान की जाली तोडक़र घर में घुस गए और करोड़ों के सोने-चांदी के जेवरात समेत साढ़े तीन लाख रुपये नगदी पर हाथ साफ  कर दिया था।

पुलिस ने न्यायधीश के पिता की तहरीर पर अज्ञात चोरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर छानवीन शुरू कर दी। न्यायाधीश के  यहां हुई करोड़ो की चोरी के मामले में छानवीन में जुटी जांच टीमों के हाथ कोई अहम सुराग न लगते देख पुलिस अधीक्षक ने एसटीएफ से मामले की छानवीन करने की अपील की थी, जनपद में वीआईपी के यहां हुई चोरी में एसटीएफ के आने के बाद भी वह चोरी की तलाश नही कर सकी। आखिरकार जनपद पुलिस को ही अहम सुराग मिल गए है, जल्द से जल्द पुलिस वीआईपी के घर चोरी की बारदात को  अंजाम देने वाले को गिरफ्तार कर खुलाश कर सकती है।

Comments