गंदगी के ढेर तले दम तोड़ रहा स्वच्छ भारत मिशन

गंदगी के ढेर तले दम तोड़ रहा स्वच्छ भारत मिशन

पाली(हरदोई) गांवों में सफाई कर्मी की नियुक्ति के बावजूद ग्रामीण स्वच्छता मिशन पर शासन द्वारा भारी भरकम बजट खर्च करने के बाद भी ग्रामीण अंचलों की गलियों में भरा दुर्गंध एक गंदा पानी डेंगू मलेरिया जैसी घातक बीमारियों को दे रहा दावत

 केंद्र की मोदी सरकार जहां स्वच्छता को लेकर काफी गंभीर नजर आ रही है वही भरखनी विकास खण्ड के जिम्मेदार लोगों ने ग्रामीण स्वच्छता मिशन  से तरह मुंह मोड़ा की उक्त विकास खंड  के अंनगपुर नेवादा सेढा मऊ जुझारपुर गिरधरपुर समेत दर्जनों गांवों गानों की गलियों में लगे कूड़े करकट के ढेर गंदगी से पूरी तरह से पट कर चोक हो चुकी

नालियों गंदे पानी से होकर ग्रामीण गुजरने को मजबूर हैं वहीं रिया इसी इलाकों में भरे बदबूदार पानी पनप रहे मच्छरों से डेंगू मलेरिया और दिमाग की बुखार जैसी घातक बीमारियों के फैलने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है

वहीं इसके लिए जिम्मेदार ग्राम प्रधान से लेकर सफाई कर्मी और पंचायती राज विभाग के कर्मचारी ग्रामीण इलाकों की इस समस्या की तरफ से पूरी तरह से आंख मूंद कर बैठे नजर आ रहे हैं इस संबंध में जब खंड विकास अधिकारी विद्याशंकर कटियारी दूरभाष पर बात की गई तो उन्होंने कहा कि बहुत ही जल्द इस पर प्रभावी कदम उठाया जाएगा उनके संज्ञान में यह बात नहीं थी

 

Comments