परिषदीय बच्चो को शैक्षिक भ्रमण के लिये हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

परिषदीय बच्चो को शैक्षिक भ्रमण के लिये हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

हैदर गढ़ बाराबंकी- परिषदीय स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को जहां सरकार कई सुविधाएं देती है लेकिन सरकार की तरफ से बच्चों को बाहर के परिवेश को देखने का कोई भी मौका नहीं मिलता है। इसकी वजह से बच्चे किताबों और कहानियों के माध्यम से बाहर की दुनिया को समझ सकते हैं लेकिन आमने सामने रूबरू नहीं हो सकते हैं जिससे उनको समाज, शहर का  समुचित ज्ञान नहीं हो पाता है। बच्चो के अंदर जागरूकता और विज्ञान के विभिन्न आयामो के जरिये शिक्षा देने के लिए हैदरगढ़ के पूर्व माध्यमिक विद्यालय घरकुईया की प्रधानाध्यापक आशा देवी द्वारा बच्चों को बाहरी दुनिया से रूबरू कराने और उनको बाहरी समाज मे सशक्त करने के लिए विभागीय अनुमति और अभिभावकों की सहमति के बाद आशा देवी गुप्ता ने बच्चों को शैक्षिक भ्रमण के लिए विज्ञान आंचलिक केंद्र और प्राणी उद्यान ले जाने का फैसला लिया जिसके बाद पूर्व माध्यमिक विद्यालय घरकुईया के करीब 50 बच्चों  को  जिला व्यायाम शिक्षक अनिल सिंह एवं जिला संगठन मंत्री विवेक कुमार गुप्ता ने हरी झंडी दिखाकर लखनऊ के विज्ञान आंचलिक केंद्र और प्राणी उद्यान ले जा रहे वाहनों को रवाना किया। आशा देवी गुप्ता ने बताया कि विज्ञान आंचलिक केंद्र के जरिए जहां बच्चों में विज्ञान के लिए समझ और प्रयोगों साथ ही विज्ञान की दुनिया को भी सीधे तौर पर देखने का मौका मिलेगा तो उनके मन में विज्ञान के प्रति समझ भी विकसित होगी साथ ही साथ प्राणी उद्यान में विभिन्न जंगली जानवरों के बारे में बच्चों को जानकारी होगी और वह साक्षात रूप से उसको देख पाएंगे। इन 2 जगहों पर भ्रमण करने से बच्चों का मानसिक विकास होने के साथ-साथ समाज के बारे में भी उनको जानकारी होगी और जानवरों के बारे में भी जानकारी उनकी समझ में बड़ा इजाफा करेगी जो कि उनकी शिक्षा के लिए बहुत ही जरूरी है। वाहनों के रवाना होते समय बच्चों के अंदर बाहरी दुनिया से परिचय होने का एक  कौतूहल और खुशी साफ दिख रही थी। इस मौके पर अनुदेशक कंचन अवस्थी सहित कई ग्रामीण मौजूद रहे जिन्होंने प्रधानाध्यापक के इस प्रयास की भूरी भूरी सराहना की।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments