परिवहन विभाग की यूनियन बाजी से विकलांग पर ही दर्ज हो गया मुकदमा,

परिवहन विभाग की यूनियन बाजी से विकलांग  पर ही दर्ज हो गया मुकदमा,

रिपोर्ट-श्रवण चौहान

कोठी बाराबंकी
संविदा परिचालक और दिव्यांग के साथ मारपीट में हुए विवाद में परिचालक ने चक्का जाम करने की चेतावनी देते हुए दिव्यांग के ऊपर भी मुकदमा दर्ज करवा दिया है जिस पर पर बाराबंकी के गन्ना संस्थान में सैकड़ों विकलांगों ने बैठक करते हुए

परिवहन विभाग के विरोध में जमकर नारेबाजी की दिव्यांगो ने कहा कि अगर 25 नवंबर से पहले दिव्यांग व उसके पुत्र के ऊपर दर्ज मुकदमे को शासन प्रशासन हटता नहीं लेती है तो 26 नवंबर को सड़क जाम करते हुए प्रदर्शन किया जाएगा।

अखिल भारतीय दिव्यांगजन कल्याण परिषद के बैनर तले ये बैठक की गई है वही सैकड़ों दिव्यांगों ने कहा कि अगर इस पर शासन प्रशासन संज्ञान नहीं लेती है तो 3 दिसंबर को राजधानी में प्रदर्शन करते हुए दिव्यांगों की एकता दिखाने का काम करेंगे।

नागेश पटेल ने बताया कि जिस प्रकार से परिवहन विभाग के चालक परिचालक दिव्यांगो को नीची नजर से देखते है यह बहुत ही निंदनीय है लेकिन आने वाले समय में उनको यह भी बताया जाएगा कि विकलांगों को नीची नजर से देखना आखिर किसे कहते हैं। वही परिवहन विभाग के खिलाफ दिव्यांगों का गुस्सा भी देखने को मिला।

जानकारी देते चले की एक अखबार के पत्रकार विकलांग की मदद करना चाहा तो उसको भी फर्जी तरीके से फसा कर मुकदमे में नाम दर्ज करा दिया है इसके पीछे की वजह गांव में पुरानी रंजिश बताई जा रही है



जनवादी सोशलिस्ट पार्टी ने अपर जिलाधिकारी को दिया ज्ञापन 


दिव्यांग के ऊपर दर्ज मुकदमे दर्ज मुकदमे की निंदा करते हुए जनवादी पार्टी सोशलिस्ट के संस्थापक संजय सिंह ने कहा कि परिचालक और यूनियन ने जो कृत किया है इन्हीं सब बातों को लेकर जनवादी पार्टी के राष्ट्रीय कार्यवाहक ओमकार ने अपर जिलाधिकारी संदीप गुप्ता

से मिलते हुए उन्हें ज्ञापन दिया है इस ज्ञापन में उन्होंने मजिस्ट्रेट जांच कराते हुए। उचित कार्रवाई करने का जिक्र किया है ओमकार ने कहा कि

अगर समाज के गिरे कुचले वर्ग के लोगों के साथ अन्याय होता है तो किसी भी हाल में जनवादी सोशलिस्ट पार्टी शांति नहीं बैठेगी सड़कों पर उतर कर धरना प्रदर्शन करने के लिए तैयार है।

Comments