पुलिस के हाथ अगर लग जाए पीली डायरी, तो मिल सकते हैं अहम सुराग

पुलिस के हाथ अगर लग जाए पीली डायरी, तो मिल सकते हैं अहम सुराग

दोस्तों से पूंछ-तांछ में मिले कुछ अहम सुराग

कमरे में डायरी होने की बात आई सामने 

 

खागाः

कालेज प्रबंधक की हत्या को लेकर पुलिस लगातार प्रयासरत है। शनिवार को खागा पुलिस के हाथ कुछ अहम सुराग मिलने की जानकारी सूत्रों के हवाले प्राप्त हुई  है। खागा पुलिस ने आज कालेज प्रबंधक के कुछ खास मित्रों को थाने में बुलाकर पुनः पूंछतांछ की।

पुलिस को योगेन्द्र प्रताप के एक खास साथी  ने बताया कि उसने एक डायरी बना रखी थी, जिसमें वो हर प्रकार की बात का जिक्र किया करता था। प्रतिदिन वो डायरी में कुछ न कुछ अपडेट किया करता था। इस बात की जानकारी

होते ही पुलिस ने उस डायरी की तलाश चालू कर दी है। अब ऐसा लगता है कि उस डायरी के हाथ लगने से पुलिस को कुछ नया क्लू मिल सकता है। पुलिस का कहना है कि फिंगर प्रिंट आने के बाद से हमें बहुत सी जानकारियां हाथ लग सकती हैं। घटना के बारे में  क्षेत्राधिकारी खागा अंशुमान मिश्र का कहना था कि डायरी की बात सामने नहीे आई है अगर ऐसा है तो मृतक के कमरे की तलाशी ली जाएगी। परिजनो के अनुसार पुलिस घटना को लेकर बिल्कुल संजीदा नही दिख रही है।

पुलिस उक्त घटना को शुरू से ही आत्महत्या की ओर इशारा कर रही है। मृतक के पास से मिले मोबाइल सेल में लगे लाक पैटर्न पर पुलिस कोई भी होमवर्क नही कर पा  रही है। इस संबंध में कोतवाली प्रभारी परशुराम से बात की गई तो उनका कहना था कि इसकी प्रक्रिया काफी लम्बी है। इसके लिए प्रयास किया जाएगा।

Comments