टीनशेड में उतरे करेंट की चपेट में आने समाचार पत्र विक्रेता की मौत, मुआवजे की मांग को लेकर किया चक्का जाम

टीनशेड में उतरे करेंट की चपेट में आने समाचार पत्र विक्रेता की मौत, मुआवजे की मांग को लेकर किया चक्का जाम

टीनशेड में उतरे करेंट की चपेट में आने समाचार पत्र विक्रेता की मौत, मुआवजे की मांग को लेकर किया चक्का जाम

 उमेशदुबे (रिपोर्टर)

भदोही 13 अगस्त उत्तर प्रदेश में भदोही जिले के शहर कोतवाली क्षेत्र के मर्यादपट्टी में मंगलवार की सुबह एक समाचार पत्र विक्रेता की हाईटेंशन विद्युत की चपेट में आने से मौत हो गई। हालांकि आस-पास के लोगो ने विद्युत की चपेट में आये समाचार पत्र विक्रेता को छुड़ाकर अस्पताल लेकर पहुंचे।

जहां चिकित्सको ने उसे मृत घोषित कर दिया। रोते-बिलखते समाचार पत्र विक्रेता के परिजनों सहित मौके पर सपा के पूर्व विधायक जाहिद बेग, सपा जिलाध्यक्ष आरिफ सिद्दीकी, पूर्व ब्लाक प्रमुख विकास यादव सहित कर्णी सेना के जिला अध्यक्ष व समाज सेवी राहुल सिंह मौके पर पहुंच गये। परिजन एसडीएम भदोही को बुलाने व मुआवजे मांग करते हुए शव को महाराजा बलवंत सिंह राजकीय चिकित्सालय के गेट के सामने स्टेशन रोड पर शव रखकर चक्का जाम कर दिया।

आक्रोशित लोगों के चक्काजाम करने की सूचना मिलते ही एसडीएम भदोही मौके पर पहुंचे और मुआवजे का आश्वासन देकर जाम समाप्त कराया। मीडिया सूत्रों के मुताबिक भदोही कोतवाली क्षेत्र के तुलसीचक गांव निवासी सुरेन्द्र यादव उर्फ भीम नामक लगभग 28 वर्षीय समाचार पत्र विक्रेता मंगलवार की सुबह भदोही नगर पालिका स्थित समाचार पत्र सेंटर से अखबार लेकर वितरण करने निकला था। मर्यादपट्टी स्थित एक दुकान में अखबार देने के लिए गया। जहां एक पोल में हाईटेंशन विद्युत प्रवाह हो रहा था।

विद्युत पोल में प्रवाह हो रहा करंट दुकान के टीनशेड व उसके खम्भे में भी उतर रहा था। जैसे ही सुरेन्द्र उर्फ भीम टीन शेड के खम्भे से स्पर्श हुआ तभी वह करेंट की चपेट में आकर छटपटाने लगा। यह देख राहगीरों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। रात हुई बारिश के चलते विद्युत, खम्भा, टीनशेड व जमीन भी भिगी हुई थी।

हालांकि कुछ लोगों ने साहब दिखाते हुए टीनशेड के खम्भे से सुरेन्द्र को अलग किया और महाराजा बलवंत सिंह राजकीय चिकित्सालय पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। मृतक घोषित की सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया।
समाचार पत्र विक्रेता सुरेन्द्र यादव उर्फ भीम काफी गरीब व किसान परिवार का था।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments