मंडलायुक्त ने मंडलीय कार्यों कि, की समीक्षा दिए निर्देश

मंडलायुक्त ने मंडलीय कार्यों कि, की समीक्षा दिए निर्देश

‌मण्डलायुक्त ने विभागीयकार्यों की प्रगति की समीक्षा

‌कार्यदायी संस्थाओं को कार्य में तेजी लाने के दिए निर्देंश।

‌स्मार्ट सिटी के  कार्यों का टेण्डर 31 अक्टूबर तक ।


‌बरसात की वजह से खराब सड़कों का  मरम्मत कराने के निर्देश।
‌स्वतंत्र प्रभात

‌ प्रयागराज।

‌मण्डलायुक्त डाॅ0 आशीष कुमार गोयल ने विभागीय अधिकारियों एवं कार्यदायी संस्थाओं केे साथ  बैठक की। बैठक में मण्डलायुक्त नेे कहा कि प्रयागराज विकास प्राधिकरण, नगर निगम, गंगा प्रदूषण, जल निगम व लोेक निर्माण विभाग समन्वय बनाकर शहर का स्थलीय निरीक्षण कर  उसे चिन्हित करने और उसकी सूची तैयार कर जल्द से जल्द दुरूस्त करने का काम करे।

‌मण्डलायुक्त ने पीडीए उपाध्यक्ष को निर्देशित किया कि जल्द से जल्द व्यापार मण्डल के लोगो के साथ वार्ता करके शहर का ट्राफिक प्लान तैयार करें और कहां पर वनवे होना है, कहां पर पार्किग का निर्माण करना है इसका रोड मैप तैयार कर अवगत कराये , जिससे लोगो को ट्राफिक परेशानियों से बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि जिन जगहों पर बार-बार जलभराव या लीकेज की समस्या आ रही है, उन्हें चिन्हित कर उसका निस्तारण करें। बरसात के बाद शहर में जहां कहीं भी रोड़ उखड़ गयी है उसकी मरम्मत युद्धस्तर पर कराने के निर्देश दिए। मण्डलायुक्त ने प्रयागराज प्राधिकरण के उपाध्यक्ष को निर्देशित करते हुए कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत कराये जाने वालें कार्यों की टेण्डर प्रक्रिया को 31 अक्टूबर तक पूरा किया जाय। उन्होंने थर्ड पार्टी द्वारा कराये गये निरीक्षण में जो खामिया पायी गयी है, उसका निदान पीडीए व नगर निगम द्वारा जल्द से जल्द पूरा करने के लिए निर्देशित किया। जिन विभागों द्वारा शहर के किसी रोड़ पर खुदाई की जा रही है, उन्हीं के द्वारा सड़क की मरम्मत करवायी जायेगी। मरम्मत का कार्य परमानेंट तरीके से कराया जाय, जिससे सड़क दोबारा न धंसने पाये। उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देश दिया कि विभागों अथवा अन्य कार्यदायी संस्थाओं द्वारा खोदी गयी सड़को पर नजर रखे और तत्काल उनकी मरम्मत कराये। इसी के साथ खुदाई से निकले मलबे को सड़कों के किनारे कदापि ना लगाया जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि किसी भी सड़क के किनारे मलबा नहीं होना चाहिए। सभी सड़कों की मरम्मत व सफाई सुनिश्चित की जाय। उन्होंने पीडीए को निर्देशित किया कि शहर में जनसामान्य के लिए जो फुटपाथ बनाये गये है बरसात की वजह से जहां कहीं भी उखड़ गये है, उनको तत्काल ठीक कराया जाय और किसी भी दशा में फुटपाथों पर अतिक्रमण न होने पाये। जहां कहीं भी फुटपाथ पर अतिक्रमण हो उसे तत्काल हटाया जाय। स्थानों को चिन्हित कर वेंडिंग जोन बनाया जाय।

‌मण्डलायुक्त ने सभी चैराहों को स्वच्छ रखने के निर्देश देते हुए कहा कि चैराहों पर बरसात की वजह से जहां कहीं भी घास उग आयी है, उन्हें तत्काल काटकर साफ-सुथरा बनाया जाय और अच्छे पेड़-पौधे लगाये जाय। शहर में जहां कहीं भी गमले रखे गये है, उसका रख-रखाव पर विशेष ध्यान देते हुए फूल आदि के पौधों उनमें लगाये जाय। इसकी निगरानी एडीएम सिटी को करने के निर्देश दिए। शहर में रोड के किनारे-किनारे जहां कहीं भी रेलिंग टूट गयी है, जहां लोग गाड़ी भी पार्क कर ले रहे है, उन रेलिंगों में वेल्डिंग कराकर उसको बंद करा दिया जाय। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि शहर की सड़कों पर गड्ढंे, खराब पड़ी लाईटे आदि की मरम्मत जल्दी से जल्दी कराया जाए तथा चैराहों व रोड के डिवाइडर में लगाए गए गमलों में अच्छे पौधें लगाए। माघ मेले के पूर्व शहर को वैसा ही बनाया जाय जैसे कुम्भ के समय था। उन्होंने ड्रेनेज सिस्टम को और बेहतर बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने शहर में खराब पड़ी स्ट्रीट लाइटों को तत्काल ठीक करने के लिए कहा।

‌बैठक में जिलाधिकारी, प्रयागराज श्री भानुचंद्र गोस्वामी, प्रयागराज विकास प्राधिकरण  के उपाध्यक्ष-टी0के0 शिबू नगर आयुक्त- डाॅ0 उज्जवल कुमार, ए0डी0एम सिटी-अशोक कुमार कनौजिया सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहें
‌प्रयागराज से दया शंकर त्रिपाठी की रिपोर्ट।

Comments