‌‘‘गंगा आमंत्रण’’ एक्सपिडीशन टीम का जिलाधिकारी ने किया स्वागत

‌‘‘गंगा आमंत्रण’’ एक्सपिडीशन टीम का जिलाधिकारी ने किया स्वागत
  • टीम का उद्देश्य लोगो को जल संरक्षण एवं गंगा  को स्वच्छ ता के प्रति जागरूक करना है।

‌‌स्वतंत्र प्रभात ‌ प्रयागराज।

‌भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय द्वारा ‘‘नमामि गंगे’’ योजना के अन्तर्गत वोट क्लब में आयोजित ‘‘गंगा आमंत्रण’’ एक्सपिडीशन टीम का जिलाधिकारी ने माला पहनाकर स्वागत किया। इस टीम का नेतृत्व कर रहे विंग कमाण्डर श्री परमवीर सिंह तथा उनकी 18 सदस्यों की टीम में मुख्य रूप से स्क्वाड्रन लीडर दीप्ति, एनडीआरएफ के डिप्टी कमांडर आर0पी0 भारती शामिल है जो कि इस अभियान को सफल बनाने में लगे है। जल शक्ति मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत की बेटी सुहासिनी सिंह भी एक्सपिडीशन टीम के साथ चल रही है। इस एक्सपिडीशन टीम का उद्देश्य जल संरक्षण एवं गंगा मैया को स्वच्छ रखने के लिए लोगो को इसके प्रति जागरूक करना है।

‌जिलाधिकारी श्री भानुचंद्र गोस्वामी ने इस मौके पर अपने विचार व्यक्त करते हुए गंगा की सफाई के लिए एक्सपिडीशन टीम द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि यह अभियान गंगा को स्वच्छ बनाने के लिए चलाया जा रहा है। ये अपने उद्देश्य में तभी सफल हो सकता है जब इसमें लोगो की जनभागिता बढ़े। इस अभियान से लोगो में गंगा की सफाई के प्रति जागरूकता बढेगी, जिससे गंगा का संरक्षण व पुनरोद्धार हो सकेगा। उन्होंने कहा कि इस अभियान में एक्सपिडीशन टीम के साथ 18 सदस्य शामिल है, जिसमें भारतीय वायुसेना के साथ, नेवी, आर्मी तथा भारतीय वन्य जीव के वैज्ञानिक आदि लोग भी शामिल है। यह पहली ऐसी यात्रा है

जो तकनीकी व वैज्ञानिक तरीके से की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस अभियान को सफल बनाने में प्रयागराज वासी दृढ़ संकल्पित है। उन्होंने कहा कि हम सब लोगो को गंगा जी को साफ निर्मल बनाये रखने के लिए अपने दायित्वों को समझना होगा। गंगा आमंत्रण की इस मुहिम में इस टीम के द्वारा गंगा सफाई के लिए किए जा रहे प्रयासों का अनुसरण करते हुए हम सभी को गंगा जी को साफ बनाये रखने में अपना बहुमूल्य योगदान देना होगा। उन्होंने कहा कि यह टीम गंगा के किनारे बसे हुए लोगो को गंगा को स्वच्छ निर्मल बनाये रखने के लिए लगातार प्रेरित कर रही है। ये टीम लगातार आमलोगो से सम्पर्क कर उनसे गंगा में गंदगी न फैलाने की अपील कर रही है। यह टीम गंगा में माला-फूल, पाॅलीथीन, साबुन से स्नान, कपड़े धोने आदि चीजों से होने वाले प्रदूषण के नुकसान से आमजनमानस को सचेत करने का काम भी कर ही है।

समारोह में अभियान के ंिवंग कमांण्डर श्री परमवीर सिंह ने अपने सम्बोधन में बोलते हुए बताया कि हम कई जगहों से होते हुए प्रयागराज पहुंचे है हमने देखा की गंगा जी ने स्वच्छता की ओर कदम बढ़ा दिया है। अब लोग ज्यादा जागरूक हो गये है। उन्होंने बताया कि 2015 से 2019 के बीच बहुत बड़ा बदलाव देखने को मिला है। वर्तमान में मां गंगा में प्रदूषित पदार्थों में काफी कमी हुई है और गंगा जी स्वच्छ भी हुई है जोकि स्पष्ट दिखाई पड़ने लगा है।

हमने अपनी यात्रा में अध्ययन किया कि डाल्फिन की संख्या में भी इजाफा हुआ है अगर पानी स्वच्छ होगा तो पानी में रहने वाले जीव भी बढ़ेगे। उन्होंने उ0प्र0 सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि गंगा जी सबसे लंबा रास्ता उ0प्र0 में तय करती है। मैंने इस यात्रा में गंगा के किनारे बने घाटों को देखा। वे एकदम साफ थे। ये सब उ0प्र0 सरकार की मंशा को बताता है कि गंगा को स्वच्छ करने में अपना योगदान देने में सबसे आगे है। उन्होंने जनसमुदाय से आह्वाहन करते हुए कहा कि गंगा जी सदियों से लोगो का पाप धोते हुए आ रही हैं अब हमें उन्हें साफ करना है। यह हमारा कर्तव्य है। प्रयागराज से दया शंकर त्रिपाठी की रिपोर्ट।

---------------------------------------------------

बाल विवाह रोकथाम हेतु जिला टास्क फोर्स का गठन।

‌जिलाधिकारी प्रयागराज भानुचंद्र गोस्वामी ने बताया है कि प्रमुख सचिव, महिला एवं बाल विकास अनुभाग-3 उ0प्र0 शासन लखनऊ के आदेश के क्रम के अनुपालन में बाल विवाह रोकथाम हेतु जिला टास्क फोर्स का गठन किया गया है। जिलाधिकारी की अध्यक्षता में टास्क फोर्स में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मुख्य चिकित्साधिकारी, श्रमायुक्त प्रयागराज, जिला पंचायत राज अधिकारी प्रयागराज, जिला विद्यालय निरीक्षक, उपायुक्त राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, जिला बाल विवाह प्रतिषेध अधिकारी/जिला प्रोबेशन अधिकारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, सदस्य किशोर न्याय बोर्ड प्रयागराज, अध्यक्ष/सदस्य बाल कल्याण समिति प्रयागराज, चाईल्ड लाइन प्रयागराज, संरक्षण अधिकारी जिला बाल संरक्षण ईकाई प्रयागराज, महिला कल्याण अधिकारी महिला शक्ति केन्द्र प्रयागराज, प्रतिनिधि मण्डलीय तकनीकी रिर्सोस पर्सन यूनीसेफ, प्रभारी ए0एच0टी0यू0 प्रयागराज को सदस्य बनाया गया है। जिला टास्क फोर्स द्वारा जनपद में बाल विवाह की निगरानी एवं रोकथाम के बहुआयामी प्रयासों की समीक्षा की जायेंगी।
‌प्रयागराज से दया शंकर त्रिपाठी की रिपोर्ट

Comments