प्रेस दिवस पर मुख्यमंत्री ने  लैपटॉप वितरण का किया  शुभारंभ : एचपीयूजे

प्रेस दिवस पर मुख्यमंत्री ने  लैपटॉप वितरण का किया  शुभारंभ : एचपीयूजे

बद्दी में होगा राज्यस्तरीय प्रेस दिवस अधिवेशन

बद्दी ( पंकज गोल्डी)  

  प्रदेश सरकार द्वारा गत बजट में पत्रकारों को लैपटॉप देने की घोषणा को अमलीजामा पहनाते हुए मुख्यमंत्री राष्ट्रीय प्रेस दिवस पर लैपटॉप देखकर इस योजना का शुभारंभ करें। यह बात यहां प्रेस में हिमाचल प्रदेश यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के प्रदेशाध्यक्ष राणेश राणा व राज्य मीडिया प्रभारी श्यामलाल पुंडीर ने कही।

उन्होंने कहा कि प्रेस दिवस पत्रकारों व पत्रकारिता के लिए एक बहुत दिन होता है। इसलिए इस दिन की उपयोगिता और बढ़ जाएगी अगर सीएम जयराम ठाकुर स्वयं अपने हाथों से पत्रकारों को लैपटॉप प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि शिमला में तो प्रदेश सरकार कार्यक्रम करती ही है। वहीं एचपीयूजे एनयूजेआई इस दिन बद्दी में राज्य स्तरीय प्रेस दिवस मना रही है।

जिसमें पूरे हिमाचल से पत्रकार आ रहे हैं। इस कार्यक्रम में भी सरकार किसी मंत्री या उच्च अधिकारी को भेजकर लैपटॉप योजना का शुभारंभ करें। प्रदेश महामंत्री किशोर ठाकुर ने कहा कि 16 नवंबर को बद्दी में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में हम 15 पुरस्कार अलग-अलग पांच श्रेणियों वरिष्ठ सवांददाता, युवा, महिला इलेक्ट्रॉनिक्स मीडिया व फोटो जर्नलिस्ट्स को उत्कृष्ट पत्रकारिता के लिए नारद मुनि एनयूजे पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाएगा।

इसके अलावा प्रदेश के तीन प्रेस क्लबों जिन्होंने पत्रकारिता के लिए विकास के साथ-साथ सामाजिक विकास व उत्धान में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की हो। वार्षिक अधिवेशन में पत्रकारों के समस्त मांगों का एक खाता तैयार करते प्रदेश सरकार को भेजा जाएगा। ताकि नए वित्त वर्ष व आने वाले बजट में उस पर अमल हो सके। इस अवसर पर एनयूजे इंडिया के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य जोगिंदर देव आर्य, हेमंत शर्मा, सुरेंद्र अत्री, सुमित शर्मा, ठाकुर जितेंद्र सिंह, प्रदेश मीडिया प्रभारी श्याम लाल पुंडीर, कुल्लू मंडी जोन इंचार्ज देवेंद्र ठाकुर भी उपस्थित थे।

 

बाली के नाम पर को पुरस्कार - राणा

हिमाचल प्रदेश यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के प्रदेशाध्यक्ष रणेश राणा ने सरकार से मांग की है कि संगठन में लंबे समय तक अध्यक्ष रहे स्वर्गीय रोशनलाल बाली के नाम पर कोई पुरस्कार या पत्रकार पेंशन योजना शुरू को ताकि उनकी सेवाओं को लंबे समय तक याद रखा जा सके। सुंदरनगर मंडी या शिमला की किसी लाइब्रेरी का नामकरण उनके नाम पर हो। स्वर्गीय श्री बाली ने ताउम्र पत्रकार व पत्रकारिता की भलाई के लिए काम किया। हमारा संगठन प्रेस दिवस पर उनको सेवाओं को विशेष तौर पर याद करेगा और पूरे प्रदेश के पत्रकार उनको कार्यक्रम शुरू करने से पूर्व श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे।

 

Comments