पुल बनाने को लेकर लोगों ने की अपील, मुखिया ने दी आश्वासन

पुल बनाने को लेकर लोगों ने की अपील, मुखिया ने दी आश्वासन

बांका:

बिहार 

प्रखंड क्षेत्र के खड़ौवा महादलित टोला वासी विगत आठ वर्षों से चचरी पुल के सहारे जीने को विवश हैं।टोला वासी ने पंचायत से लेकर मुख्यमंत्री तक लिखित एवं मौखिक रूप से पुल निर्माण को लेकर गुहार लगा कर थक चुके हैं लेकिन आज तक न तो कोई अधिकारी सुन पाया और नहीं जिला प्रशासन।

जब हमारे पत्रकार ने इस संबंध में ग्रामीण महेंद्र दास,अवध बिहारी दास ,सेवा निवृत्त शिक्षक लाल धारी दास,डॉ सुमन,पूर्व वार्ड सदस्य सुजाता देवी सहित दर्जनों ग्रामीणों से जानकारी लिया तो ग्रामीणों ने बताया कि विगत आठ वर्षों से उक्त पुल के निर्माण के लिये पंचायत से जिला तक गुहार लगायी गई है।

लेकिन सब बेकार साबित हुआ।उनकी मानें तो रजौन में मुख्यमंत्री को टोला वासियों ने मिलकर एक अदद पुल निर्माण की गुहार लगाई ।मुख्यमंत्री कार्यालय से सम्बंधित विभाग के कार्यपालक अभियंता को पुल निर्माण की आदेश भी दिया गया जिसकी सूचना टोलावासी को भी दी गयी ।लेकिन विभाग तक दौड़ लगाने के वाबजूद कुछ नहीं हुआ ।चुनाव के दौरान पंचायत प्रतिनिधियों समेत दिल्ली एवं पटना वाले नेताओं ने जीत के बाद समस्या के निश्चित समाधान का भरोसा देकर वोट ले तो लिया लेकिन बाद में वे सबकुछ भूल गए।

टोला वासियों की मानें तो पुल के आभाव में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है ।बरसात के दिनों में बच्चों को विद्यालय,आंगनवाड़ी केंद्र तक आने जाने में अभिवावकों को भय बना रहता है ।भवन निर्माण के लिए बैशाख एवं जेठ महीना तक इंतजार करना पड़ता है ।उनकी मानें तो अब उनकी धैर्य की सीमा समाप्त हो गयी है ।

अगर अब भी पुल का निर्माण नही होता है तो उनके समक्ष आंदोलन के अलावे कोई विकल्प नही होगा ।इस बाबत पंचायत की मुखिया रजनी मंडल ने बताया कि उक्त टोले की समस्या का समाधान उनकी प्राथमिकता में है ।राशि उपलब्ध होते ही समस्या का समाधान कर दिया जायेगा ।

Comments