अविश्वास प्रस्ताव के लिए मत के पहले भारी बवाल सदस्यों के अपहरण का प्रयास

अविश्वास प्रस्ताव के लिए मत के पहले भारी बवाल सदस्यों  के अपहरण का प्रयास

अविश्वास  प्रस्ताव के लिए मत के पहले भारी बवाल सदस्यों के  अपहरण का प्रयास ।

 

रायबरेली में लोकसभा सदस्य चुनने के लिए मतदान हो चुका है,लेकिन स्थानीय राजनीति मतदान के दूसरे ही दिन से गरमाई हुई है।आज मंगलवार को जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश प्रताप सिंह के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान होना था

लेकिन उससे पहले कुछ ऐसी घटनायें घटीं,जो साफ सुथरी प्रजातांत्रिक व्यवस्था के दामन पर गहरा दाग बन गयी।कांग्रेस विधायक अदिति सिंह की गाड़ी का दुर्घटनाग्रस्त होना,लखनऊ से रायबरेली आते समय जिला पंचायत सदस्य राकेश अवस्थी पर हमला व अपहरण,मुराई का बाग में सदस्यों को रायबरेली आने से रोकने जैसी कथित घटनाओं ने पहली बार रायबरेली के आम जनमानस के मन में खटास पैदा कर दी है।

         काँग्रेस व सपा नेताओं के आरोप हैं कि मंगलवार की सुबह कुछ दबंगों की ओर से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह के काफिले पर पहले बछरावां टोल प्लाजा के पास पथराव के बाद फायरिंग की गई।बाद में जब काफिला तेजी से वहां से निकलने लगा,तो हरचंदपुर थाना क्षेत्र के मोदी स्कूल के पास विधायक अदिति सिंह की कार अनियंत्रित होकर पलट गई जिससे उन्हें चोटें आईं,उन्हें लखनऊ भेज दिया गया है।हमले में विधायक अदिति सिंह के काफिले की 3 गाड़ियां पलटने की सूचना है।हादसे के बाद घायल विधायक अदिति सिंह ने इस हमले का आरोप बीजेपी के लोकसभा प्रत्याशी दिनेश सिंह व उनके भाई अवधेश सिंह पर लगाया है।

जानकारी के मुताबिक रायबरेली के जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ आज अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग होनी थी,और इसके लिए विधायक अदिति सिंह लखनऊ से रायबरेली पहुंच रही थीं,लेकिन इस बीच कुछ हमलावरों ने उनकी कार पर हमला कर दिया और हमले से बचने के चक्कर में उन्होंने कार को भगाने की कोशिश की, लेकिन उनकी गाड़ी अनियंत्रित होकर पलट गई।कहा जा रहा है कि सिर्फ अदिति सिंह ही नहीं अविश्वास प्रस्ताव के लिए वोटिंग करने जा रहे जिला पंचायत के कई अन्य सदस्यों पर भी अज्ञात लोगों ने फायरिंग की।

सदस्यों पर फायरिंग के बाद अज्ञात दबंगों ने सदर विधायक अदिति सिंह की गाड़ी का भी पीछा किया।फिलहाल पुलिस मामले में जांच कर रही है।हादसे की जानकारी मिलते ही अदिति सिंह के पिता और पूर्व विधायक अखिलेश सिंह,पूर्व मंत्री मनोज पांडे व क्षेत्र के कई नेता उनका हाल जानने अस्‍पताल पहुंचे।

 जिला पंचायत सदस्य के अपहरण और मारपीट मामले में पुलिस प्रशासन की ढिलाई को देखते हुए समाजवादी पार्टी नेता व पूर्व मंत्री मनोज पांडे,पूर्व विधायक राम लाल अकेला,पूर्व विधायक आशा किशोर समेत बड़ी संख्या में लोगों ने शहीद चौक पर धरना दिया।
सपा नेताओं की मांग है कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कदम उठाया जाए एवं उन्हें सुरक्षा प्रदान किया जाए।

स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो चीफ राजेश कुमार रायबरेली

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments