स्वच्छ भारत मिशन की खुली पोल गांव की गलियों में गंदगी का अंबार

स्वच्छ भारत मिशन की खुली पोल गांव की गलियों में गंदगी का अंबार

"स्वच्छ भारत मिशन की खुलेआम धज्जियां उड़ाते सफाई कर्मी" 

रायबरेली -

जिले में लगातार कई दिनों तक तेज बारिश होने के कारण नालियां पूरी तरह से चोक हो चुकी हैं अब तो बारिश बंद हुए कई दिन बीत चुके हैं

लेकिन गांवों की सफाई करने के लिए सफाई कर्मी अभी तक नहीं पहुंचे स्वच्छ भारत मिशन को लगातार पलीता लगाने में सफाई कर्मी कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं एक तो प्रदेश की भ्रष्ट सरकार में गांवों का किसी भी तरह का विकास नहीं हो पा रहा है।

नालियां ना होने के कारण सड़कों व खड़ंजो में पानी भरा रहता है जहां पर नालियां बनी हुई है वहां पर  ब्लॉक के अधिकारियों की उदासीनता के चलते सफाई कर्मी गांवों में सफाई करने के लिए नियमित नहीं पहुंच रहे हैं।

स्वतंत्र प्रभात की टीम ने जिले के कई ब्लॉकों का दौरा किया बछरावाँ ब्लॉक के ग्राम पंचायत मलपुर के गुलाब खेड़ा गांव में महराजगंज  ब्लाक के ग्राम पंचायत राघोपुर के गांव पूरे कुमेदान व अलीपुर ग्राम पंचायत के गांव धौकल गंज शिवगढ़ ब्लाक के ग्राम पंचायत शेरगढ़ के गांव पड़रिया में लोगों ने बताया कि यहां पर सफाई कर्मी महीनों महीनों तक सफाई करने के लिए नहीं पहुंचते हैं आखिर सरकार सिर्फ जनता को सारा कुछ हवा-हवाई ही दिखाएगा

या कुछ ग्राउंड जीरो पर विकास करवाएगी सफाई कर्मियों को सरकार फ्री में प्रतिमाह वेतन दे रही है इन सफाई कर्मियों की गांवों में आने की सूचना गांवों  की जनता से ली जाए तब इनको और पंचायती राज के अधिकारियों की लापरवाही का पता चल सके कई लोगों ने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल पर भी दर्ज करवाई थी

तो ब्लॉक के एडीओ पंचायत ने उसमें रिपोर्ट लगाई की सफाई कर्मी रोस्टर के हिसाब से प्रति दिन गांवों में सफाई करने के लिए पहुंचते हैं लेकिन ग्राउंड जीरो पर इसका नजारा कुछ और ही दिखाई पड़ता है अगर सफाई कर्मी नियमित गांवों की सफाई करने पहुंचे तो गांवों में एक भी गंदगी नहीं रहेगी

लेकिन ब्लॉकों के अधिकारी इन्हीं सफाई कर्मियों से हफ्ता वसूली भी लेते हैं तभी तो झूठी आख्या लगा देते हैं सरकार शीघ्र ही लापरवाहों के ऊपर नकेल कसने की तैयारी करें नहीं तो स्वच्छ भारत की जगह गंद भारत मिशन बनने वाला है ।

Comments