राजधानी में रुला रही बिजली आपूर्ति...

राजधानी में रुला रही बिजली आपूर्ति...

शहर में रुला रही बिजली आपूर्ति...

एक तो ऊपर वाले की मार पारा 43 डिग्री पार और नीचे बदहाल बिजली आपूर्ति रुला रही आज शहरवासियों को और सरकार के दावें 24 घंटे बिजली आपूर्ति देने के, और प्रदेश की राजधानी की ही वास्तविकता यह है कि पूरी तरह चरमरा गयी है बिजली आपूर्ति व्यवस्था तो बाकी जगहों का क्या हाल होगा ? 

कल रात से आज दोपहर के बीच के ही तीन केसों की जानकारी आज यहाँ दे रहा हूँ...

(1) आज शिवाजीपुरम, इंदिरा नगर में करीब 03 घंटे बाधित रही बिजली आपूर्ति...


आज दोपहर करीब 02 बजे शिवाजीपुरम की बिजली आपूर्ति बाधित हो गयी, स्थानीय निवासी श्री विजय गुप्ता द्वारा टाल फ्री नम्बर पर जब बिजली आपूर्ति बाधित होने के बारे में जानकारी चाही तो पता चला बिजली घर ने सुचना ही नहीं दी है वहां, जिसके बाद श्री गुप्ता ने शिकायत संख्या MV 0205192522 दर्ज करवा दी, तत्पश्चात एसडीओ, विद्युत् उपकेन्द्र सेक्टर-14, इंदिरा नगर (न्यू) मनोज प्रभाकर से जब जानकारी मांगी गयी

तो पता चला पहले तो बिजली घर पर पावर ट्रांसफर का आयल लीक होने पर तेल भरा जाना बताया और उसके बाद रात में पिछले कई दिनों से शिवाजीपुरम में abc बंच कंडक्टर का खराब होने से विद्युत् आपूर्ति बाधित होने के कारण नई केबल का बिछाना बताया गया, अब बात उठती है कि उस समय नई केबल क्या ब्रेक डाउन होने पर बिछाई जा रही थी, या पहले से प्लांड थी, बिलकुल यह पहले से प्लांड कार्य था तो इसकी सुचना अखबारों के माध्यम से उपभोक्ताओं को देना चाहिए था, लेकिन विद्युत् विभाग की मनमानी से सभी उपभोक्ता आज 43 डिग्री तापमान में बिजली बाधित होने से करीब 02 बजे से शाम 05 बजे तक तपते रहे I   

(2) रोज-रोज दग रहे ट्रांसफार्मर...


यह दृश्य मटियारी, चिनहट के पास फैजाबाद रोड पर लगे जलते ट्रांसफार्मर का है जो 250 केवीए का है और अब बदला जाना है, कितने घंटे विद्युत् आपूर्ति बंद रहेगी मटियारी की, अभी देखना बाकी है I 
अभी फिलहाल यह ट्रांसफार्मर 250 केवीए के ट्रांसफार्मर से ही बदला जा रहा है, लेकिन एसडीओ, चिनहट विद्युत् उपकेन्द्र के अनुसार यहाँ 400 केवीए का ट्रांसफार्मर प्रस्तावित है तो कहीं ये ट्रांसफार्मर ओवरलोडेड तो नहीं ?  

(3) जल रही abc कंडक्टर...


सुगामऊ, तकरोही में बिजली ट्रिपिंग से शार्ट सर्किट होने से आग लगने की शिकायत गीत विहार, तकरोही निवासियों ने की थी, जहाँ आग लगने से एक ही मकान के 05 सदस्यों की दर्दनाक मौत हो गयी थी I बिजली ट्रिपिंग की वजह ट्रांसफार्मर ओवरलोडिंग भी हो सकती है, जिसके चलते कल और कुछ दिन पूर्व ही सुगामऊ बिजली घर में लगे पावर ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाई गयी थी, लेकिन पावर ट्रांसफार्मर क्षमता बढ़ने के बाद पहले ही दिन रात में मायावती कॉलोनी में जलती मिली केबल ?

(4) कितने ही ट्रांसफार्मर ओवरलोडेड चल रहे हैं, लेकिन लाइन लॉस कम करने में हार चुका है विद्युत् विभाग और सिर्फ ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ा रहा है ?

इन परिस्थितियों में कैसे मिलेगी सस्ती और ट्रिपिंग लेस विद्युत् आपूर्ति I 


विजय गुप्ता,
(सामाजिक कार्यकर्ता)

Comments