राज्यमंत्री ने दिया नवयुगलों को सुनहरे भविष्य का आर्शीवाद

 राज्यमंत्री ने दिया नवयुगलों को सुनहरे भविष्य का आर्शीवाद

 

राज्यमंत्री ने दिया नवयुगलों को सुनहरे भविष्य का आर्शीवाद
सात वचनों के साथ लिये सात फेरे 
मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह सम्मेलन मेंं 102 जोड़ो की हुई शादी


ललितपुर। Ravi shankar sen

उ.प्र. शासन द्वारा संचालित मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनान्तर्गत समाज कल्याण विभाग एवं नगर पालिका परिषद के संयुक्त तत्वाधान में गुरूवार को जिलाधिकारी योगेश कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में जी.टी.सी. ग्राउंड में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन हुआ। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राज्य मंत्री श्रम एवं सेवायोजन मनोहर लाल पंथ एवं विशिष्ट अतिथि सदर विधायक रामरतन कुशवाहा व मण्डालयुक्त सुभाष चन्द्र शर्मा आदि उपस्थित रहे। उपस्थिति रही।


कार्यक्रम में सदर विधायक ने अपने सम्बोधन में कहा कि प्रदेश सरकार समाज के पिछड़े व्यक्ति का विकास करने के लिए तत्पर है। आज मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत यहां जनपद के 102 जोड़ों का विवाह सम्पन्न हुआ है। उन्होंने कहा कि सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास यही सरकार की मंशा है।  इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज सम्पूर्ण प्रदेश में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत 21 हजार जोड़ों का विवाह सम्पन्न कराया जा रहा है। आज का कार्यक्रम अत्यन्त भव्य रुप में आयोजित किया गया है। शासन की मंशानुरुप योजनाओं पर सफलतम रुप से कार्य किया जा रहा हैं।

पुलिस अधीक्षक ने अपने सम्बोधन में कहा कि मुख्यमंत्री जी ने गरीब व्यक्तियों के लिए अनेक योजनाएं संचालित की हैं, जिसमें में प्रमुख मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना है। इस योजना में गरीब व्यक्तियों की पुत्रियों की शादी का सम्पूर्ण व्यय सरकार द्वारा उठाया जाता है। उन्होंने कहा कि हम सभी जोड़ों के सुखी, सम्पन्न वैवाहिक जीवन एवं उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हैं। कार्यक्रम के दौरान राज्यमंत्री श्रम एवं सेवायोजन ने कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति का विकास करने के लिए पूर्ण रुप से तत्पर है। आज के दिन पूरे प्रदेश में 21 हजार जोड़ों का विवाह सम्पन्न कराया जा रहा हैं। पूर्व में इस योजन के तहत 01 जोड़े पर 35 हजार रुपए का व्यय होता था,

अब यह राशि बढ़ाकर 51 हजार रुपए कर दी गई है। आज के सामुहिक विवाह सम्मेलन में कुल 102 जोड़ों के विवाह सम्पन्न हुये, इनमें अनुसूचित जाति के 37, अल्स पिछड़ा वर्ग के 40, अल्पसंख्यक 07, सामान्य वर्ग के 13 तथा अनुसूचित जनजाति के 05 जोड़े शामिल हैं। विकासखण्ड बिरधा के 12, मड़ावरा के 14, तालबेहट के 12, जखौरा के 15, बार के 09, महरौनी के 08, नगर पालिका परिषद के 22, नगर पंचायत तालबेहट क 02, नगर पंचायत महरौनी के 03 तथा जिला पंचायत ललितपुर के 05 (कुल 102)। इस दौश्रान नगर जिला समाज कल्याण अधिकारी पीयूष चन्द्र राय, अधिशासी अधिकारी, समस्त खण्ड विकास अधिकारी एवं सम्बंधित विभागों के अधिकारियों सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Comments