प्रभारी चिकित्सा अधिकारी कलान को नहीं है स्वास्थ्य सेवाओं से कोई सरोकार

प्रभारी चिकित्सा अधिकारी कलान को नहीं है स्वास्थ्य सेवाओं से कोई सरोकार

प्रभारी चिकित्सा अधिकारी कलान को नहीं है स्वास्थ्य सेवाओं से कोई सरोकार

 

दिनेश मिश्रा की रिपोर्ट शाहजहांपुर

महीनों से नहीं है स्वास्थ्य केंद्र पर 108 एंबुलेंस
102 एंबुलेंस में भी लगता है धक्का
ग्रामीण क्षेत्रों में समय से एंबुलेंस ना पहुंचने पर हो जाती है मरीजों की मौत

कलान (शाहजहांपुर)


प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कलान के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर आर्येन्द्र सिंह यादव को स्वास्थ्य सेवाओं से कोई सरोकार नहीं है। इतना ही नहीं प्रभारी चिकित्सा अधिकारी स्वयं मरीजों को कभी कभार ही देखते हैं।

और तो और यहां प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर 108 एंबुलेंस सेवा महीनों से उपलब्ध नहीं है। इतना ही नहीं 102 एंबुलेंस वाहन भी घंटों धक्का लगाकर स्टार्ट किया जाता है। जब एक एंबुलेंस धक्के से स्टार्ट नहीं होती तो

शेष बची दूसरी एंबुलेंस उसमें घंटों धक्का लगाती रहती है। जिससे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर आने वाले मरीजों को देर हो जाती है और वे मौत के मुंह में चले जाते हैं। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कलान पर स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति बहुत ही दयनीय है। यहां की चिकित्सा व्यवस्था भगवान भरोसे चल रही है।

एंबुलेंस वाहन खराब होने की सूचना प्रभारी चिकित्सा अधिकारी द्वारा उच्चाधिकारियों को नहीं दी जाती। जिससे स्वास्थय सेवाएं प्रभावित हो रही है।


ज्ञात हो कि यह वही प्रभारी चिकित्सा अधिकारी हैं। जिन्होंने जिलाधिकारी द्वारा संविदा कर्मी डॉ दिनेश एवं स्टाफ नर्स गुड्डी सागर का तबादला करने के बावजूद अभी तक रिलीव नहीं किया है।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments