संगीतमय भागवत कथा में उमड़ा जनसैलाब

संगीतमय भागवत कथा में उमड़ा जनसैलाब

रिपोर्ट-राकेश पाठक

हैदरगढ़ बाराबंकी।
भगवान कृष्ण का अवतार राक्षसों के वध के लिए हुआ। धरती पर धर्म का पताका फहराने के लिए ईश्वर ने अवतार लिया कृष्ण ने बाल रूप से ही पूतना का वध किया माखन चोरी की गोपिकाओं के साथ रास भी रचाया यह बात तेजस्विनी कथावाचक पूर्णिमा मिश्रा ने कही।

कस्बा हैदरगढ़ में हो रही श्रीमद् भागवत कथा में पांचवे दिन नीमसार से आई कथा व्यास पूर्णिमा मिश्रा ने श्रोताओं के बीच कहा कि लीलाधारी भगवान श्री कृष्ण का अवतार दैत्यों के नाश के लिए ही होता है। जब जब धरती पर अत्याचार कंस जैसे राजाओं के बढ़ते हैं। तब भगवान का अवतार होता है।

रिश्ते में भगवान श्री कृष्ण कंस का भांजा था और वह उसके मामा थे लेकिन श्री कृष्ण को मारने के लिए अपनी बहन पूतना को भेजता है अघासुर बकासुर जैसे तमाम राक्षसों को भेजता है लेकिन प्रभु कृष्ण सभी को परलोक पहुंचा देते हैं।

कथावाचक पूर्णिमा मिश्रा ने आगे बताया कि भगवान राम मर्यादा पुरुषोत्तम थे तो भगवान श्री कृष्ण लीला धारी थे। उन्होंने अपने सखाओ के साथ तरह तरह के राज्य में जा रहा दूध दही को रोकने के लिए घरों में चोरी की। शाखाओं को खिलाया खुद खाए और अपने भाई बलदाऊ भैया के साथ खेल खेल में शाखाओं के मध्य अपने तमाम भक्तों के कष्टों को दूर करते हैं।

भक्तों का उद्धार करने के लिए ही भगवान ने जन्म लिया कई दिनों से ब्रह्मनान वार्ड में आयोजक राकेश पाठक के आवास पर हो रही श्रीमद्भागवत पुराण कथा में मुख्य जजमान रूद्र नारायण पाठक उनकी धर्मपत्नी श्रीमती दुर्गेश नंदिनी के अलावा भाजपा पूर्व विधायक पंडित सुंदरलाल दीक्षित

नमो नारायणी सेवा संस्थान हैदरगढ़ के अध्यक्ष राजकुमार अग्रवाल शिव कुमार चतुर्वेदी पूर्व चेयरमैन अखिलेश सिंह सौरभ मिश्रा शिव सिंह सभासद पंकज अग्रवाल सुरेश गुप्ता राजेंद्र कुमार यादव विनोद पांडे मनोज यादव अखिलेश मिश्रा जगदीश मौर्य कन्हैया लाल शुक्ला आशा मिश्रा विनय मिश्रा मुन्नालाल पाठक भानु प्रताप पाठक सुशील पाठक

चंद शेखर पाठक सहदेव प्रेम नारायण पांडे राम प्रकाश पांडे शिवचरन मौर्य राजेश तिवारी राजू चतुर्वेदी रवि पाठक राम प्रसाद पाठक सरस्वती शिशु मंदिर विद्या मंदिर के आचार्य सहित भारी संख्या में पुरुष व महिलाएं भागवत कथा का आनंद ले रही है ।

Comments