चुनावी मुद्दा , ग्रामीणों ने डिग्री कॉलेज खोले जाने की कर रहे मांग।

चुनावी मुद्दा , ग्रामीणों ने डिग्री कॉलेज खोले जाने की कर रहे मांग।

नरेश कुमार गुप्ता

चुनावी मुद्दा , ग्रामीणों ने डिग्री कॉलेज खोले जाने की कर रहे मांग।

सुधीर मिश्रा की रिपोर्ट पहला , सीतापुर।


सरैया राजा साहब ब्लाक मुख्यालय पहला के कस्बा सरैया राजा साहब मे डिग्री कालेज खोले जाने की मांग जोर पकङती जा रही है।

वजह साफ है कस्बा सहित ग्रामीण अंचलो की तमाम छात्राएं चाह कर भी उच्च शिक्षा ग्रहण नही कर पा रही है। अविभावको मे इसे लेकर जन प्रतिनिधियों मे भी रोष है ।मुद्दे पर जब " हिंदुस्तान / स्वतंत्र प्रभात के संवाददाता "ने लोगो से बात की तो उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया कुछ इस तरह व्यक्त की।

ज्वैलर्स एवं कपड़ा व्यवसायी कृष्ण कुमार रस्तोगी का कहना है। कि कस्बे मे इन्टर से ऊपर की कोई शिक्षा की व्यवस्था नही है। जिससे आगे की पढ़ाई के लिए छात्र - छात्राओ को शिक्षा ग्रहण करने के लिए बाहर जाना पड़ता है ।

ऐसे मे छात्राएं आगे की पढ़ाई नही कर पाती है । समाजसेवी महेंद्र मौर्या ने बताया । कि सरैया कस्बे मे अगर डिग्री कालेज की स्थापना हो जाए। तो घर रहकर भी छात्र छात्राएँ उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकते है । दवा विक्रेता डाक्टर नूर मोहम्मद ने बताया ।

कस्बे मे उच्च शिक्षा की व्यवस्था न होने के कारण बङे घरो के बच्चे को बाहर जाकर कमरा किराए पर लेकर आगे की शिक्षा ग्रहण कर लेते है। मगर गरीब लोगों के बच्चे चाह कर भी आगे की पढ़ाई नही कर पाते है । राहुल रस्तोगी का कहना है। कि अगर सरैया मे डिग्री कालेज बन जाये ।तो यहा के छात्र - छात्राओ को पन्द्रह किलो मीटर बिसवा , बारह  किलो मीटर महमूदाबाद और साठ किलो मीटर सीतापुर जाकर  आगे की पढ़ाई के लिए जाना नही पड़ेगा ।

वह आसानी से घर मे रहकर उच्च पढ़ाई प्राप्त कर सकते है। ग्राम बेढौरा महिला प्रधान कुसुम मिश्रा ने बताया। कि लड़के तो आगे की शिक्षा के लिए बाहर रूक कर व प्रतिदिन आ जाकर किसी तरह से पढ़ाई कर लेते है । मगर लडकियां शिक्षा को चाह कर भी आगे की शिक्षा ग्रहण नही कर पाती है ।

इन्टरमीडिएट  के बाद लङकिया मजबूरन घरो मे काम करने के लिए विवश हो जाती है । इस मुद्दे पर चुनावी  जन प्रतिनिधियो को ध्यान देना चाहिए। जिससे समस्त छात्र छात्राएँ शिक्षा की मुख्य धारा से जुङ सके ।

 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments