कसमंडा बाल विकास में  दिया गया मोबाइल प्रशिक्षण      

कसमंडा बाल विकास में  दिया गया मोबाइल प्रशिक्षण      

नरेश कुमार गुप्ता

कसमंडा बाल विकास में  दिया गया मोबाइल प्रशिक्षण                                                

       मुख्य सेविका दीपाली बाजपेई आंगनबाड़ियों सिखाए मोबाईल गुण                      

                                                         रविंद्र सिंह की रिपोर्ट सीतापुर                                                               

सीतापुर।

बाल विकास परियोजना कसमंडा आंगनबाड़ी कर्मचारियों को मोबाइल वितरण के बाद 6 फरवरी 2019 से 8 फरवरी 2019 तक मोबाइल प्रशिक्षण की शुरुआत की गई जिसमें प्रशिक्षण दाता मुख्य सेविका दीपाली वाजपेई मोबाइल से जुड़े आईसीडीएस के ऐप के बारे में विशेष जानकारियां उपलब्ध कराएं और आंगनबाड़ियों को किस तरीके से काम करना है यह काम की शुरुआत की गई बताते चलें कि आंगनबाड़ियों ने बड़े जोर-शोर के साथ प्रशिक्षण में भाग लिया बताया कि हमें जो बताया गया है

उसके अनुसार काम करना है और आगे की कार्यवाही अगले दिन बताई जाएगी जिससे कि समझ में आए और यह भी बताया गया है किस तरीके से मोबाइल में डाटा अपलोड करके सीन करना है जिससे मोबाइल की लोकेशन के बारे में भी बताया गया कि आपको लोकेशन पर जाकर अर्थात अपने आंगनबाड़ी केंद्र पर जाकर परिवार से मिलकर उसके सदस्यों की जानकारी जुटानी और हर स्टेप पर परिवार की पूरी जानकारी इकट्ठा करने के बाद सीन कर देना

जिससे आंगनबाड़ियों में काफी खासा उत्साह दिखाई दिया मोबाइल प्राप्त होने से आंगनबाड़ी महिलाओं ने काफी खासा खुशी जाहिर की इस अवसर पर मुख्य सेविका दीपाली बाजपेई के द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त करने पर आंगनबाड़ी कर्मचारियों ने बताया कि उन्होंने काफी समझाया है और उसी तरीके से कार्य करने से हमको सही दिशा मिलेगी इस प्रशिक्षण के मध्य  चाय  और नाश्ता खाना  भी आंगनबाड़ी वर्करों को  दिया गया, बताते चलें की मुख्य सेविका दीपाली बाजपेई ने बताया की आंगनबाड़ी कर्मचारियों को मोबाइल के द्वारा काफी जानकारियां दी गई हैं

जिससे कि उनको आगे कोई परेशानी ना आए इसके बारे में आगे भी बताया जाएगा क्योंकि तीन दिवसीय प्रशिक्षण है और सभी को इस प्रशिक्षण में उपस्थित रहना अनिवार्य है जिससे कि उनको कोई भी समस्या ना आए इसलिए यह प्रशिक्षण उनके लिए बेहद जरूरी है और आंगनबाड़ियों इस पर काफी खुश है और उनको मोबाइल मिला है लेकिन इससे जुड़ी जानकारियां उनको नहीं थी

इसलिए प्रशिक्षण लेना अनिवार्य इसलिए आज से प्रशिक्षण की शुरुआत है और यह प्रशिक्षण 3 दिन चलेगा बाल विकास परियोजना अधिकारी खलीलुल्लाह ने बताया यह सरकार की नई योजना और इससे बेहद मदद मिलेगी आंगनबाड़ी कर्मचारियों को रिपोर्ट देने में और सभी को यह बताया जा चुका है कार्य को किस तरीके से करना और उसके लिए प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है और कार्य में किसी भी प्रकार की कोई कोताही बरती ना जाए इस बात की भी विशेष ध्यान और निगरानी की जाएगी।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments