तेजी से नीचे गिर रहा जलस्तर, ग्राम पंचायतों के पास नहीं पर्याप्त संसाधन।

तेजी से नीचे गिर रहा जलस्तर, ग्राम पंचायतों के पास नहीं पर्याप्त संसाधन।

तेजी से नीचे गिर रहा जलस्तर, ग्राम पंचायतों के पास नहीं पर्याप्त संसाधन।


प्रवीण कुमार बड़ोदिया


स्वतंत्र प्रभात
समाचार


सीहोर/श्यामपुर:- 

इस समय तेजी से पानी का जलस्तर गिरने के चलते ग्राम पंचायतें एक-दो दिन छोड़कर जलप्रदाय कि या जा रहा है। लेकि न कई बार व्यवस्था बिगड़ने से लोगों को पांच-पांच दिन तक पानी नहीं मिल पाता है।

इससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं अनियमित जलप्रदाय से लोगों को पानी खरीदकर अपनी आवश्यकता की पूर्ति करना पड़ रही हैं। वैसे तो दो दिन छोडक़र तीसरे दिन जलप्रदाय कि या जाना चाहिए। लेकि न कई बार यह व्यवस्था गड़बड़ा जाती हैं।

इससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में उनको पानी खरीदकर अपनी आवश्यकता की पूर्ति करना पड़ता है। इससे ठंड के मौसम हे ही टैंकरों को दौड़ते हुए देखा जा सकता है।

ज्ञात हो कि अधिकत ग्राम पंचायतों की नल-जल योजना में पानी सप्लाई करने वाले जल स्त्रोत सूखने के बाद ग्राम पंचायत को अब अन्य व निजी जल स्रोतों से पानी लेना पड़ रहा है। वहीं भी दिन व दिन कम होता जा रहा है।

वहीं लगातार पानी का दोहन होने से क्षेत्र के अधिकतर जल स्रोतों ने दम तोड़ दिया है, जिनमें पानी उपलब्ध है वह कब दम दोड़ दे यह कहा नहीं जा सकता है। इससे यह अंदाजा लगाया जा रहा हैं कि लोगों को आने वाले समय में गंभीर जल संकट से गुजरना पड़ सकता हैं।

क्योकि तेजी से अभी भी पानी का जो दोहन जारी है। लेकि न इसको रोकने के लिए कोई कारगर कदम नहीं उठाए गए हैं। जब ठंड के मौसम में यह हाल हैं तो गर्मी के मौसम म क्या होगा।

क्योंकि अभी से अनियमित जल-प्रदाय से अभी से पानी खरीदना पड़ रहा हैं। इस ओर ग्राम पंचायत को ध्यान देकर व्यवस्था को सुचारु रुप से संचालित करना चाहिए।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments