कलेक्टर गणेश शंकर मिश्रा की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा एवं आपदा प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित की गई।

कलेक्टर गणेश शंकर मिश्रा की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा एवं आपदा प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित की गई।

कलेक्टर  गणेश शंकर मिश्रा की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा एवं आपदा प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित की गई।

प्रवीण कुमार बड़ोदिया 

स्वतंत्र प्रभात समाचार 

सीहोर 

सीहोर :-

कलेक्टर  गणेश शंकर मिश्रा की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा एवं आपदा प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में आवारा मवेशियों की समस्या के निदान हेतु यातायात व्यवस्था, पार्किंग व्यवस्था आदि बिन्दुओं पर चर्चा की गई।

कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि आवारा मवेशियों से जगह-जगह यातायात बाधित होने वाले मवेशियों को पकड़कर अभ्यारण व गौशालाओं में भेजने की कार्रवाई करें एवं उनके लिये चारे और पानी की व्यवस्था उपलब्ध कराएं।

ग्राम पंचायतों में जो गौशालाएं बनाने के निर्देश है उनके परिपालन मं प्राथमिकता के आधार पर कार्य किया जाए। नगरपालिका सीएमओ को निर्देशित किया कि पुलिस द्वारा लगाए गए सीसीटीवी कैमरे की रिकार्डिंग के आधार पर अतिक्रमण हटवाया जाए। शहर में नो एंट्री लोन बनाकर वहां वाहनों के आवागमन पर स्थाई रूप से रोक लगाई जाए एवं पार्किंग व्यवस्था सुधारें। जगह-जगह पड़े मलवे के ढेर हटाऐ और रास्ते साफ करवाएं। पीडब्लयूडी ईई को निर्देशित किया कि हाईवे पर डिवाइडर का निर्माण शीघ्र पूर्ण करें एवं जहां सड़कें अधूरी है उन्हें जल्दी पूर्ण करने की कार्यवाही करें। बस स्टेण्ड स्थित माल एवं शोरूम के सामने खड़े वाहनों को रोकने हेतु उन्हें नोटिस दिए गए हैं।

ट्रामा सेंटर से नर्सिग होम तक दोपहर में सड़क पर खड़े किए जा रहे वाहनों की पार्किंग बनाकर व्यवस्था की जाए।  शहर से रेत के डंपर निकलते हैं उन्हें निकलने के लिये टाइमिंग निर्धारित कर दुर्घटनाएं रोकने हेतु प्रयास किए जाए। जिले की सीमा से होकर अन्य जिलों में जाने के लिये उनके रुट निर्धारित कर उन्हें ऐसे रास्तों से निकाला जाए जहां पर आवाजाही कम हो, इसके लिये कच्चे मार्ग का भी उपयोग किया जा सकता है। वाहन एसडीएम के पास पंजीकृत होने पर ही इन्हें जिले में पास होने दिया जाएगा। वाहनों की फिटनेस पर ध्यान दिया जाए। जिले में प्रत्येक जेसीबी मशीन का पंजीयन किया जाए साथ ही नर्मदा तट के 10 किलोमीटर क्षेत्र में इजाजत के प्रवेश नहीं करेगी जिसे परमिशन दी जाएगी वह मशीन ही उस क्षेत्र में रहेगी।

सभी नाव धारों पर चलने वालों के टेंडर निकाल कर रजिस्ट्रेशन किया जाए। आपदा प्रबंधन हेतु 24 घंटे दुर्घटना की सूचना मिलते ही की जाने वाली त्वरित कार्यवाही की जानकारी लेकर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आपदा आने पर घायलों को जितनी जल्दी हम सहायता देंगे उसमें हम अधिक लोगों की जान बचाएं हमें किसी भी घटना को हल्के में नहीं लेना चाहिए। भीड़ वाले स्थानों पर उन्हें नियंत्रित करने के लिए हमें यह ध्यान रखना है

कि भीड़ को खुला स्थान दें उनके चलने के लिए आगे स्थान खाली रखना चाहिए जहां विशेष अवसरों पर भारी भीड़ इकट्ठी होती है वहां किसी भी प्रकार के अतिक्रमण ना होने दें उस क्षेत्र को पूर्णता खाली रखा जाए भीड़ वाले स्थानों पर पार्किंग की व्यवस्था दुरुस्त रखें। भीड़ वाले स्थानों पर विशेष ध्यान रखें कि किसी भी प्रकार की अफवाहें स्थानों पर नियंत्रण होने वाले लाउडस्पीकर से गाइड करें। रात्रि में होने वाले कार्यक्रमों में प्रकाश की व्यवस्था करें व्यवस्थाओं हेतू मेला प्राधिकरण से बजट की मांग करें जहां नदी में पानी गिर रहा है वहां लोगों को जाने से रोकना चाहिए जिससे उन्हें डूबने से बचाया जा सके। नर्मदा नदी के जिन घाटों पर पानी अधिक गहरा है वहां जाना प्रतिबंधित करें।

सलकनपुर मंदिर में दर्शनार्थियों के लिय वाहनों की पार्किंग की पर्याप्त व्यवस्था करने हेतु एसडीएम पीडब्ल्यूडी नसरुल्लागंज को निर्देशित किया। सड़क मार्ग से मंदिर तक शासन द्वारा अनुबंधित गाड़ियां ही जा सकेंगी भारी वाहनों को मंदिर तक जाने की इजाजत नहीं होगी। इन वाहनों में दर्शनार्थियों के लिए आने जाने का किराया शासन द्वारा निर्धारित रहेगा। इन वाहनों पर इन वाहनों को परमिट ग्राम पंचायत द्वारा दिया जाएगा। मंदिर पर जाने वाले सीड़ी मार्ग पर किसी प्रकार का अतिक्रमण नहीं होने दिया जाए यदि अतिक्रमण कारी नहीं मानता है तो उसे तत्काल वहां से हटाया जाए।

सीड़ियों में दोनों और निर्धारित स्थान खाली छोड़ कर ही दुकान लगाएं। दुर्घटना के समय सहायता के लिए आवश्यक सामान जैसे क्रेन, रस्से, जैकेट व अन्य उपकरण कितने हैं और कहां है। खनिज अधिकारी को निर्देशित किया कि लाइसेंस धारी लोगों को लाइसेंस चेक करें और विस्फोटक सामग्री भंडारण हेतु उचित व्यवस्था है या नहीं चेक करें जर्जर भवनों को नोटिस देकर तत्काल गिराने की कार्रवाई करें।

सीईओ को निर्देशित किया कि आप मिड डे मील व्यवस्थाओं का निरीक्षण करवाएं और यदि अवस्था होती हो तो उसे दूर करें छात्रावासों में भी भोजन व्यवस्थाओं पर निगाह रखें आने वाले समय में होने वाली गेहूं खरीदी में पूर्ण पारदर्शिता रखी जाए समितियों पर पूरी निगरानी रखें शिकायत मिलने पर तत्काल कार्रवाई करें।  छोटे-छोटे विवाद को भी हल्के में न लें। इस वर्ष गर्मियों में पेयजल की समस्या गंभीर हो सकती है इसके निराकरण ग्राम पंचायत स्तर तक अभी से शुरू करें।

लॉ एंड ऑर्डर का पालन करने में लापरवाही न करें पूर्ण शक्ति में पालन कराएं और असामाजिक तत्वों पर आज से ही सख्त कार्रवाई करें। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  अरुण कुमार विश्वकर्मा, अपर कलेक्टर विनोद कुमार चतुर्वेदी, पुलिस अधीक्षक  राजेश चंदेल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक   समीर यादव, जिला परिवहन अधिकारी, थाना प्रभारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments