विवेकानंद इंटर कॉलेज के  शिक्षक द्वारा  युवती के साथ छेड़छाड़ करने के आरोपी  शिक्षक को बर्खास्त करने की  उठने लगी मांग

विवेकानंद इंटर कॉलेज के  शिक्षक द्वारा  युवती के साथ छेड़छाड़ करने के आरोपी  शिक्षक को बर्खास्त करने की  उठने लगी मांग

शाहजहांपुर /अल्हागंज थाना क्षेत्र के  लालपुर नयागांव की युवती को बहलाने फुसलाने तथा छेड़छाड़ करने के आरोप में नामजद किए गए स्वामी विवेकानंद इंटर कॉलेज के शिक्षक को बर्खास्त करने की मांग अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने कॉलेज के प्रधानाचार्य से की है। आपको बता दें कालेज के एक शिक्षक पर एक युवती को 13 दिन तक अगवा कर दिल्ली में रखने एवं छेड़छाड़ करने का आरोप लगा है

जिसमें पुलिस की सांठगांठ के चलते युवती के परिवार वालों के प्रार्थना पत्र देने एवं रजिस्टर्ड डाक द्वारा भेजने के बावजूद पुलिस की हिला हवाली के चलते 30 सितंबर की शाम में मुकदमा दर्ज किया गया है जिसमें युवती ने शिक्षक बसंत लाल पर बहला-फुसलाकर दिल्ली ले जाने एवं छेड़छाड़ करने के गंभीर आरोप लगाए वहीं पुलिस पर भी सांठगांठ कर शिक्षक को बचाने का प्रयास  करने का आरोप लगा है युवती के आपको बता दें पुलिस ने युवती को 29 सितंबर की शाम पुलिस कस्टडी में लिया था

जिसे पुलिस दो दिन तक इधर-उधर लिए घूमती रही और परिवार वालों को गुमराह करती रही कि इसके कोर्ट में बयान दर्ज हो गए या शिक्षक को बचाने का एक षड्यंत्र था लेकिन जब बयान दूसरे दिन भी दर्ज नहीं हुए तो पीड़ित परिवार पूरी चाल को समझ गया और मुकदमा दर्ज कराने पर अड़ गया तब मजबूरन पुलिस को मुकदमा दर्ज करना पड़ा इसी प्रकरण में छात्र संघ के कार्यकर्ताओं नेकॉलेज के प्रधानाचार्य इंद्रपाल सिंह यादव को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य राज मिश्रा मीडिया प्रभारी प्रखर श्रीवास्तव नेहाल सक्सेना अमन पाल शिवरतन अनुज सक्सेना शिवम वर्मा के द्वारा सौंपें गे ज्ञापन में कहा गया है कि ग्राम लालपुर निवासी तथा कालेज के शिक्षक बसंतराम पर गांव की ही युवती ने छेड़छाड़ करने तथा बहला-फुसलाकर भगा ले जाने का आरोप लगाते हुए अल्लाहगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है ऐसे में शिक्षक के द्वारा कॉलेज मैं शिक्षण कार्य करना अनैतिक होगा

इससे छात्र-छात्राओं में गलत संदेश जाएगा शिक्षक जब तक आरोप मुक्त ना हो जाए तब तक शिक्षक को बर्खास्त करना आवश्यक है। दूसरी तरफ प्रधानाचार्य श्री यादव का कहना है कि उनको एबीवीपी छात्र संगठन का का ज्ञापन मिल गया है सभी पहलुओं पर विचार किया जा रहा है।


पीड़ित परिवार  परिवार पर आर्थिक रूप से लालच देकर समझौते का बन रहा दवा

मिली जानकारी के अनुसार शिक्षक एक असरदार व्यक्ति है जो राजनीतिक और सामाजिक आर्थिक रूप से दबाव बनाकर पीड़ित परिवार से राजीनामा दिलवाने की जुगत में लगा है जानकारी तो यहां तक मिली है की खुलेआम लाखों रुपए  में सौदा किया जा रहा है

Comments