पहले सब चाय वाले थे आज सब झूठे चौकीदार बने हुए, चौकीदारों पर भारी पड़ेंगे बेरोजगार - जयहिन्द

पहले सब चाय वाले थे आज सब झूठे चौकीदार बने हुए, चौकीदारों पर भारी पड़ेंगे बेरोजगार - जयहिन्द

पहले सब चाय वाले थे आज सब झूठे चौकीदार बने हुए, चौकीदारों पर भारी पड़ेंगे बेरोजगार - जयहिन्द

सिवानी मण्डी ( सुरेन्द्र गिल )

आम आदमी पार्टी हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिन्द ने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि आज तक भिवानी की जनता का  सिर्फ राजनीतिक इस्तेमाल किया गया है। इनेलो, भाजपा सभी की सरकारे यहां की जनता ने देखी है लेकिन किसी ने भी जनता की भलाई के लिए विकास के नाम पर एक ईट तक नही लगाई।

भिवानी की जनता के लिए न पानी है न बिजली है। शिक्षा व स्वास्थ्य को लेकर कभी भी इस क्षेत्र में काम नही किया गया। सरकारी स्कूल-अस्पताल सिर्फ कागजों में है। सुविधाओं के नाम पर सिर्फ जर्जर इमारते है। उन्होने कहा कि भाजपा ने सत्ता में रहते हुए सिर्फ काण्ड किये है। विभाजन के वक्त भी हरियाणा जो भाईचारा कायम था आज उसे भाजपा ने खराब किया है।

भाजपा ने 2014 में झूठ बोले थे और आज भी बोल रही है, पहले सब चाय वाले थे आज सब झूठे चौकीदार बने हुए है। प्रदेश का भाईचारे का नाश कर दिया। न बेटी को बचा पा रहे है न ही पढ़ा पा रहे है। जयहिंद ने कहा कि चौकीदार नही कमीशनखोर बने हुए है। आज देश का असली चौकीदार अपने परिवार का पालन-पोषण तक नही कर पा रहा है, खट्टर सरकार उन्हें डीसी रेट तक नही दे रही है। हर रोज किसी न जिले से नकली दवाई की वजह से आंखे खराब होने के केस सामने आ रहे है।  प्रदेश की पुलिस चौकीदारों की सुरक्षा में लगी हुई तो प्रदेश में महिलाये कैसे सुरक्षित रहेंगी। वे आज सोमवार को स्थानीय जाट धर्मशाला में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे।

कार्यकर्ताओं के सम्बोधन में प्रदेशाध्यक्ष ने संघर्ष करते रहने की प्ररेणा देते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी हमेशा ही मुद्दों को लेकर जनता के लिए लड़ती रही है और आगे भी लड़ती रहेगी। प्रदेशाध्यक्ष ने आगे कहा कि आम आदमी पार्टी दिल्ली मॉडल को लेकर हरियाणा में लोकसभा व विधानसभा चुनाव लड़ेगी। जब आम आदमी पार्टी दिल्ली सस्ती बिजली, फ्री पानी, प्राइवेट स्कूलों से बेहतर सरकारी स्कूल, अच्छे सरकारी अस्पताल,

मोहल्ला क्लिनिक, फ्री दवाइयां व टेस्ट, गरीबों का प्राइवेट हॉस्पिटल में फ्री इलाज, शहीद जवान के परिवार को देश में सबसे ज्यादा 1 करोड़ की आर्थिक मदद, किसान को फसल बर्बादी पर 20 हजार रूपये एकड़ मुआवजा दे सकती है तो भाजपा क्यों नही? सिर्फ नारों से जनता का पेट नही भरता है, लोगों को रोटी चाहिए और रोजगार चाहिए। 

Comments