पुलिस मौके पर पहुंच गई वरना तीन बेकसूरों की हो सकती थी माॅब लिन्चिंग में हत्या

पुलिस मौके पर पहुंच गई वरना तीन बेकसूरों की हो सकती थी माॅब लिन्चिंग में हत्या

सिद्धार्थ नगर -

जिले के मिश्रौलिया थाना क्षेत्र में बच्चा चोरी की अफवाह फैलते ही हजारों ग्रामीण इकट्ठा हो गए। अभी वहां मार पीट हो ही रही थी कि पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। वरना तीन बेकसूर फेरी वालों की जान भी जा सकती थी।

बताते चलें कि आज कल बच्चा चोरी के अफवाह में आए दिन लोग किसी न किसी शहर में किसी महिला या पुरुष को पीट रहे हैं। ये तो मिश्रौलिया पुलिस की एक्टिविटी थी वरना यहां भी बेकसूरों की जान जा सकती थी।

बताया जाता है कि जनपद के चेतिया बाजार में फेरी करने वालों को उस समय पकड़ लिया जब फेरी वाले घर - घर जाकर चादर बेच रहे थे। इसी दौरान फेरी वाले ने जैसे ही चादर झाड़ा तब तक वहां खड़ी एक महिला गुड़िया पत्नी पप्पू बेहोश हो गई। महिला के बेहोश होते ही ग्रामीणों ने तीनों फेरी वालों को पकड़ लिया और बच्चा चोर कहकर घेर लिया। तभी किसी ने इसकी सूचना चेतिया पुलिस को दे दी। तब तक इधर फेरी वालों को दो चार हाथ पड़ चुके थे। सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और पकड़े गए तो फेरी वालों को भीड़ से बचाकर थाने ले गई।

बच्चा चोरी की अफवाह में पुलिस और कुछ स्थानीय लोगों ने सूझबूझ से काम न लिया होता तो तीन लोग भीड़ तंत्र का शिकार हो जाते।

सीओ इटवा श्रीयश त्रिपाठी ने बताया कि फेरी का काम करने वाले तीनों लोगों का नाम अशोक, सोनू, भोमाराम है। जो लुधियाना के रहने वाले हैं और फेरी का काम करते हैं।

Comments