पर्याप्त जमीन के बावजूद किराए के मकान में चल रहा  धम्मौर उप डाकघर

 पर्याप्त जमीन के बावजूद किराए के मकान में चल रहा  धम्मौर उप डाकघर

धम्मौर, सुल्तानपुर-

भले ही केंद्र सरकार डिजिटल इंडिया मेक इन इंडिया समेत भिन्न-भिन्न अत्याधुनिक योजनाओं का कार्यान्वयन कर रही हो परंतु हैरत इस बात की है कि धम्मौर उप डाकघर का बाजार क्षेत्र में पर्याप्त मात्रा में जमीन उपलब्ध रहने के बावजूद धम्मौर उप डाकघर वर्षों से किराए के मकान में संचालित हो रहा है

किराए के मकान में एक हाल वाले कमरे में चल रहे उप डाकघर में ना तो उसमें ग्राहकों को खड़ा रहने की जगह है और ना ही पार्किंग की कोई समुचित व्यवस्था है डाक उपभोक्ताओं के लिए पेयजल की उपलब्धता भी नहीं है हालांकि कई बार उक्त जमीन पर डाकघर निर्माण के अधिकारियों को कहा गया बावजूद इस मामले पर विभागीय अधिकारी चुप्पी साधे हुए हैं।


बताते चलें कि विकासखंड दुबेपुर के धम्मौर बाजार में डाकघर निर्माण के लिए भूमि गाटा संख्या 701 न सिर्फ आरक्षित है बल्कि डाक विभाग को हस्तांतरित भी हो गई आरक्षित भूमि का विभाग द्वारा बाउंड्री वाल तो करा दिया गया जबकि धम्मौर स्थित डाकघर आज भी किराए के भवन में असुविधाजनक स्थिति में चल रहा है डाकघर धम्मौर का अभी तक उच्ची करण भी नहीं हुआ जिससे क्षेत्रवासियों को डाक संबंधी कई आवश्यक कार्यों के लिए लगभग 15 किलोमीटर दूर स्थित जिला मुख्यालय जाना पड़ता है।

इस बाबत धम्मौर निवासी भाजपा नेता रवि प्रकाश सिंह ने बताया कि डाकघर निर्माण तथा उच्ची करण के लिए पूर्व सांसद वरुण गांधी जी को पत्र के माध्यम से अवगत कराया गया था जिस को संज्ञान में लेते हुए पूर्व सांसद ने मुख्य डाक अधीक्षक जीपीओ लखनऊ को एक पत्र भी लिखा था किंतु अभी तक विभागीय अधिकारियों ने उप डाकघर निर्माण के लिए किसी भी प्रकार की कार्यवाही शुरू नहीं की और जमीनी हकीकत जस की तस बनी हुई है

श्री सिंह ने बताया की वर्तमान सांसद मेनका गांधी को भी धम्मौर उप डाकघर की समस्या से अवगत करा दिया गया है अब देखना यह होगा कि क्षेत्रवासियों को अत्याधुनिक डाक सुविधा कब तक प्राप्त हो सकती है।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments