सुलतानपुर के दो साहित्यकारों को मिलेगा हिन्दुस्तानी एकेडमी का पुरस्कार 

सुलतानपुर के दो साहित्यकारों को मिलेगा हिन्दुस्तानी एकेडमी का पुरस्कार 
  • डॉ.आद्या प्रसाद सिंह प्रदीप व डॉ.ओंकारनाथ द्विवेदी को एक एक लाख रुपये की धनराशि देकर किया जायेगा सम्मानित 

सुलतानपुर चर्चित साहित्यिक संस्था अवधी मंच से जुड़े जनपद के दो प्रमुख साहित्यसेवियों को हिन्दुस्तानी एकेडमी का सम्मान मिला है । यह जानकारी देते हुये अवधी मंच के सचिव ज्ञानेन्द्र विक्रम सिंह 'रवि' ने बताया कि बुधवार देर रात घोषित हुये हिन्दुस्तानी एकेडमी के दस पुरस्कारों में दो पुरस्कार सुलतानपुर के साहित्यकारों को मिला है । 

 कादीपुर तहसील के रानेपुर गांव निवासी वरिष्ठ साहित्यकार डॉ. आद्या प्रसाद सिंह 'प्रदीप' को उनके अवधी महाकाव्य 'तुलसीदास' पर एक लाख रुपये का  बनादास अवधी सम्मान और संत तुलसीदास पी.जी.कालेज कादीपुर के पूर्व हिन्दी विभागाध्यक्ष व शहर के शास्त्री नगर मुहल्ला निवासी डॉ.ओंकारनाथ द्विवेदी को उनकी काव्य पुस्तक 'छन्द कलश' पर एक लाख रुपये का कुम्भनदास ब्रजभाषा सम्मान देने की घोषणा की गई है । 

एकेडमी का पांच लाख रुपये का सर्वोच्च 'गुरु गोरखनाथ शिखर सम्मान' सोनभद्र निवासी  आर.आर.पी.जी.कालेज अमेठी के पूर्व हिन्दी विभागाध्यक्ष डॉ.अनुज प्रताप सिंह को प्रदान किया गया है । डॉ.अनुज प्रताप सिंह कई दशकों से सुलतानपुर की साहित्यिक गतिविधियों से जुड़े रहे हैं ।ज्ञानेन्द्र विक्रम सिंह 'रवि' ने बताया कि इन सभी को इसी महीने प्रयागराज के उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र मेंं आयोजित एक भव्य सम्मान समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सम्मानित करेंगे । 

 साहित्यकारों के सम्मान को जनपद का गौरव बताते हुये वरिष्ठ साहित्यकार डॉ.कमल नयन पाण्डेय , आशुकवि मथुरा प्रसाद सिंह 'जटायु' ,डॉ.राधेश्याम सिंह , इन्द्रमणि कुमार ,डॉ.सुशील कुमार पाण्डेय 'साहित्येन्दु' , डॉ.डी.एम.मिश्र,डॉ.शोभनाथ शुक्ल , अवनीश त्रिपाठी व जयंत त्रिपाठी आदि ने प्रसन्नता जताई है ।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments