पुलिस ने निभाया मित्र पुलिस का फर्ज

पुलिस ने निभाया मित्र पुलिस का फर्ज

सुलतानपुर/कूरेभार

वैसे तो मित्र पुलिस के बारे में समाज के लोगों में काफी भ्रांतियाँ हैं। ज्यादा तर लोग इनके वर्ताव से असंतुष्ट ही रहते हैं।   इनकी कार्य शैली से जनता का हित कम अहित ज्यादा ही होता है।

क्यों कि, ये साँप को रस्सी और रस्सी को साँप बनाने में माहिर होते हैं। लेकिन कभी कभी इनकी आत्मा भी जाग उठती है, और ये पुलिस मित्र का फर्ज बाखूबी निभा जाते हैं। और समाज के लिए मिशाल बन जाते हैं।हम बात कर रहे हैं थाना कूरेभार के उप निरीक्षक के० पी० वर्मा की। जो बैंक आफ बड़ौदा कूरेभार की सीढ़ियों पर चढ़ रहे एक असहाय दिव्यांग को उस समय सम्हाल लिया जब वह सीढियां चढ़ते समय लड़खड़ा गया था। अपने एक सहयोगी के साथ उसे सहारा देकर बैंक के अंदर तक पहुंचाया।

Comments