सीओ सिटी श्यामदेव गोरखपुर के लिए हुए रिलीव

सीओ सिटी श्यामदेव गोरखपुर के लिए हुए रिलीव

सुल्तानपुर

 क्षेत्राधिकारी सादर श्यामदेव बिंद आखिरकार गोरखपुर के लिए रिलीव हो गए ,उनके ट्रांसफर होने से संभ्रांत वर्ग काफी मायूस है ।अपनी लोकप्रिय कार्यप्रणाली के चलते सीओ सिटी हर वर्ग में खासा लोकप्रिय थे।वह वर्ष 2007 बैच के सीओ सिटी हैं।

अब गोरखपुर में कुल आठ क्षेत्राधिकारी हैं ।सीओ सिटी श्यामदेव का गोरखपुर की विभागीय वेबसाइट पर नाम भी चढ़ गया है। वहां से रिलीज हुए सीओ सतीश चंद्र शुक्ला अब सुल्तानपुर के सीओ होंगे ।दीगर हो कि वर्ष 1989 में गोविंद अग्रवाल यहाँ सीओ रहे। अब 31वें सीओ के रूप में श्यामदेव को पुलिस अधीक्षक हिमांशु कुमार ने यहां से कार्यमुक्त किया है ।लोगों का अनुमान था कि वह यहां ऐतिहासिक दुर्गापूजा पर्व संपन्न कराकर जाएंगे ।

लेकिन ऐसा हो न सका ।सीओ सिटी श्यामदेव के कार्यकाल में महज नगर कोतवाली में ही अब तक लगभग 10 कोतवाल बदल चुके हैं लेकिन अपनी लोकप्रिय कार्यशैली के चलते वह अधिकांश पुलिस अधीक्षक के चहेते बने रहे। जिसमें पूर्व एसपी अनुराग वर्ष ,अमित वर्मा वर्तमान के हिमांशु कुमार नाम शामिल हैं।दूसरी बात की जाए तो यहां नगर कोतवाली में तैनात रहे SHO वीपी सिंह अब प्रमोट होकर सीओ गोरखपुर है।इसके पूर्व भी यहां एडिशनल एसपी रहे विनय सिंह गोरखपुर के लिए ट्रांसफर हुए थे ।

सीओ सिटी श्यामदेव 17 जुलाई वर्ष 2017 से सुल्तानपुर जिले में बतौर सीओ सिटी यादगार सेवा का अवसर मिला । वाह रोज की भांति आज भी दफ्तर में काम निपटा आते रहे।  इसके पूर्व वह जिले में कई बड़े मामलों में बढ़-चढ़कर अपनी भूमिका दिखाई । आपातकाल जैसी स्थिति में भी उन्होंने  कई बार खुद को साबित किया ।इतना ही नहीं कटका अपहरण कांड में  खून से लहूलुहान बच्चे को छाती से लपेटे अपनी ड्यूटी निभाई और  खाकी पुलिस अधिकारी की तरह उनकी वर्दी भी बच्चे के बहते खून से लाल हुई।

Comments