कहानी प्रतियोगिता का परिणाम घोषित कथाकार प्रतिभा की कहानी को मिला पहला स्थान

कहानी प्रतियोगिता का परिणाम घोषित कथाकार प्रतिभा की कहानी को मिला पहला स्थान

सुलतानपुर।

कथा समवेत पत्रिका द्वारा 'माँ धनपती देवी स्मृति कथा साहित्य सम्मान' के लिए आयोजित अखिल भारतीय हिन्दी कहानी प्रतियोगिता 2019 का परिणाम घोषित हो गया है।दो चरणों में हुए मूल्यांकन के बाद नई दिल्ली की कथाकार प्रतिभा की कहानी 'प्रत्याशा के आस पास' को प्रथम स्थान मिला है।

गाजियाबाद की मृदुला शुक्ला की कहानी 'फफोले' द्वितीय स्थान पर रही है। शिव प्रसाद सिकंदराबाद,तेलंगाना की कहानी 'क्षितिज के उस पार' तृतीय स्थान पर रही है।इसके साथ ही विशेष प्रोत्साहन सम्मान के लिए इस बार तीन के स्थान पर पांच कहानियों का चयन हुआ है

जिनमें मनजीत शर्मा मीरा खरड़, पंजाब की कहानी 'सलमा सितारों वाली', विवेक द्विवेदी रीवा, म.प्र. की कहानी 'माली', हंसा दीप टोरंटो,कनाडा की कहानी 'कल किसने देखा', कुमार शर्मा अनिल मोहाली, पंजाब की कहानी 'कोई शक', तथा अखिलेश श्रीवास्तव चमन लखनऊ की कहानी  'विकास का पहिया' विशेष प्रोत्साहन सम्मान हेतु चुनी गई हैं।

कहानी प्रतियोगिता के आयोजक कथा समवेत पत्रिका के संपादक डॉ शोभनाथ शुक्ल ने इसके विषय में जानकारी देते हुए कहा कि इस वर्ष प्रतियोगिता में कुल 73 कहानियाँ आई हुई थीं।जिनका मूल्यांकन दो चरणों में कराया गया।दोनों चरणों में प्राप्त अंकों के आधार पर श्रेष्ठ कहानियों का चयन किया गया।

इस प्रतियोगिता की यही खासियत है कि मूल्यांकनकर्ता को यह नहीं पता होता कि यह किसकी कहानी है।प्रतियोगिता के अंतिम चरण के निर्णायक प्रतिष्ठित कहानीकार बद्री सिंह भाटिया, सोलन हिमाचल प्रदेश, साहित्यकार प्रो० चन्द्र कला त्रिपाठी, वाराणसी तथा कहानीकार-समीक्षक राज कुमार गौतम नई दिल्ली रहे।

पुरस्कृत कहानियां कथा समवेत के दिसम्बर अंक में प्रकाशित होंगी और हर वर्ष की भाँति इसका लोकार्पण और उपस्थित चयनित कहानीकारों का सम्मान समारोह 20 दिसम्बर 2019 को सुल्तानपुर में आयोजित होगा।

 

 

Comments