स्वास्थ्य विभाग द्वारा मलेरिया की रोकथाम के लिए चलाए गए अभियान के दौरान 59 तालाबों व कुओं में डाली गम्बूजिया मछली।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा मलेरिया की रोकथाम के लिए चलाए गए अभियान के दौरान 59 तालाबों व कुओं में डाली गम्बूजिया मछली।

भिवानी, (सुरेन्द्र गिल)-

 स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रदान की जा रही स्वास्थ्य सेवाओं का जरूरतमंद व्यक्ति भरपूर लाभ उठा रहे हैं। जून माह के दौरान स्थानीय चौ. बंसीलाल सामान्य अस्पताल में 83 हजार 409 नागरिकों ने स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ लिया। 


यह जानकारी देते हुए उपायुक्त अंशज सिंह ने बताया कि चौ. बंसीलाल सामान्य अस्पताल में आमजन को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं मुहैया करवाई जा रही हैं। उन्होंने बताया कि विगत माह में सामान्य अस्पताल में कुल 83 हजार 409 लोगों ने चिकित्सा सेवाओं का लाभ उठाया, जिन में नई व पूरानी ओपीडी 72 हजार 592 ओपीडी और 10 हजार 816 नई व पूरानी आईपीडी चिकित्सा सेवाएं शामिल रही हैं। उपायुक्त ने बताया कि सामान्य अस्पताल में 34 चिकित्सकों की टीम कार्यरत है।

उन्होंने बताया कि जून माह के दौरान अस्पताल में 1407 मरीजों को आपातकालीन सेवाएं प्रदान की गइ्र्र हैं। उपचार के दौरान 513 जरूरतमंदों को एनस्थिसिया दिया गया। अस्पताल में 513 मरीजों के विभिन्न प्रकार के ऑप्रेशन किए गए। उन्होंने बताया कि अस्पताल में 253 डिलीवरी हुई हैं। उपायुक्त ने बताया कि उपचार के दौरान 2034 मरीजों की ईसीजी की गई और 5133 के एक्सरे किए गए। इसी प्रकार से 2903 मरीजों के अल्ट्रासाऊंड किए गए। उपायुक्त ने बताया कि सामान्य अस्पताल में 570 मरीजों को रक्त उपलब्ध करवाया गया तथा 39 हजार 495 मरीजों की विभिन्न प्रकार की जांच की गई।

 


59 तालाबों व कुओं में डाली गम्बूजिया मछली।


भिवानी, (सुरेन्द्र गिल)-  स्वास्थ्य विभाग द्वारा मलेरिया की रोकथाम के लिए चलाए गए अभियान के दौरान विभिन्न गांवों के तालाबों व कुओं में गंबूजिया मछली डाली गई है। ये मछलियां डेंगू व मलेरिया फैलाने वाले मच्छर के लार्वा को खाती है।


यह जानकारी देते हुए सिविल सर्जन डॉ. आदित्य स्वरूप गुप्ता ने बताया कि मलेरिया से संबंधित आशंका वाले गांवों में पिछले एक माह से ही दवाई का छिड़काव किया जा रहा है, मलेरिया से संबंधित आशंका वाले गांव धनाना, तिगड़ाना, बडेसरा, तालू, जताई व अलखपुरा आदि गांवों में दवाई छिड़काव का किया जा रहा है। सिविल सर्जन ने बताया कि गांवों में तालाबों व कुओं में गंबूजिया मच्छली डाली गई है, जो मलेरिया फैलाने वाले मच्छर को समाप्त करती है। 


सिविल सर्जन डॉ. आदित्य स्वरूप गुप्ता ने बताया कि मलेरिया की रोकथाम के लिऐ जिला भिवानी की सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कैरू, बोन्द, धनाना तथा भिवानी शहर को मिलाकर कुल 59 तालाबों व कुओं में गम्बूजिया मछलियां डाली गयी है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीमें उन जगहों पर जा रही है जहाँ इन मछलियों को तालाबों व कुओं में छोडऩे की आवश्यकता है। विभाग द्वारा उन स्थानों पर भी टेमिफोश स्प्रे किया जा रहा है, जहां पर पानी रुका हुआ है।

सिविल सर्जन ने बताया कि पिछले वर्षों की तुलना में मलेरिया, डेंगू व चिकनगुनिया के केशों में काफी कमी आयी है। वर्ष 2011 में मलेरिया के 3653 केश थे, 2012 में 2613, 2013 में 953, 2014 में 293, 2015 में 141, 2016 में 211, 2017 में 65 तथा 2018 में कुल 18 केश हुए है।

वही डेंगू के 2011 में कोई केश नही था, 2012 में 2, वर्ष 2013 में 34, 2014 में 0, 2015 में 601, 2016 में 17, 2017 में 85 तथा 2018 अभी तक कोई केश नही है। वहीं चिकनगुनिया की बात करे तो वर्ष 2011 से 2015 तक कोई भी केश नही था। 2016 में चिकनगुनिया के 4 केश, 2017 में 1 केश तथा 2018 में अभी तक कोई भी केश नहीं है। 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments