स्मृति ईरानी को क्यों नकारा अमेठी की जनता ने -अनिल सिंह 

स्मृति ईरानी को क्यों नकारा अमेठी की जनता ने -अनिल सिंह 

स्मृति ईरानी को क्यों नकारा अमेठी की जनता ने अनिल सिंह 


स्वतंत्र विचार

लखनऊ ब्यूरो से जिला कागेंस कमेटी अमेठी जिला प्रवक्ता ने बातचीत में लगाया आरोप कहा की 2014 से अब तक केवल जुमलेबाजी मानव संसाधन विकास मंत्रालय,सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय,कपड़ा (वस्त्र) मंत्रालय से आखिर क्यों नहीं इन तीन मंत्रालय से अमेठी में किसी प्रकार का कार्य एक ईट भी अमेठी के किसी कोने में रखी गई तो हो तो स्मृति जी बताएं ।


डिजिटल इंडिया का राग अलापने वाले आखिर क्यों आईआईटी टीकरमाफी अमेठी से बंद करा दिया एफडीडीआई के छात्रों को क्यों स्मृति ने भड़काया कि यह संस्थान फर्जी है 941 बच्चे जो आज एफडीडीआई से शिक्षा ग्रहण के बाद 25000 से लेकर लाखों लाख कमाने वाले क्या ईरानी की तरह फर्जी व नकली डिग्री धारक है 


अमेठी के कितने बच्चों को केंद्रीय विद्यालय में दाखिला मिला जबकि स्मृति जी के कारिंदे दिल्ली मुंबई में दाखिला करा कर लाखों की वसूली किए 
अमेठी के कितने सामाजिक संस्थाओं को सहायता मिली स्मृति जी की संस्था (उत्थान सेवा समिति )को छोड़कर डेमो मेमो ट्रेन क्यों बंद हैं।


छल कपट पाखंड कलंक से परिपूर्ण जीवन आपका आप अमेठी के मान सम्मान अपमान की बात करती हो। 
आप देश की चर्चित प्रख्यात पद और आप एक सवाल हो?


 अमेठी में आप एक खाद की रैक पर पूरे 5 वर्ष की राजनीत की ।
जहां अमेठी में हजारों हजार रैक जिप्सम और ऊसर सुधार के लिए एक क्रांति अवधि रही।
अब वही अमेठी आज दुनिया की नजरों में खुशहाल किसान, और लहलहाती फसलें आप देख सकती हैं ।


आपको तो सब ने नकारा लेकिन अदब,मान,सम्मान की संस्कृति से भरपूर,- देश के राजनीति की बैतरणी अमेठी ने आपको शोहरत और पवित्र रिश्ता दीदी से नवाजा फिर भी आपने अमेठी को छला जिसका परिणाम आपके नामांकन अवसर पर अमेठी परिवार ने आपको खूबसूरत तोहफा भेंट करते हुए आप और सूबे के मुख्यमंत्री बाबा जी को नकारा क्योंकि अमेठी परिवार सब समझता सही समय पर विदाई का वक्त था

जो अमेठी परिवार ने कर दिया जिला मुख्यालय गौरीगंज के रणंजय इंटर कालेज खेल मैदान में आये लोगों का जो अपमान आप और बाबा ने किया अमेठी उसे भूलेगा नही।
 नामांकन जनसभा में ना आकर दूर राहुल के राष्ट्रीय राजमार्ग पर खड़े होकर 1 मिनट के संबोधन के बाद छोड़ कर चल दिए ।
अमेठी परिवार तुम्हारी हर फितरत से अब वाकिफ हो चुका हैं ।


नेहरू जी से लेकर इंदिरा, राजीव, सोनिया, राहुल,प्रियंका को पानी पी पीकर तुम और तुम्हारे फेकू,तड़ीपार ने देश के महापुरुषों को खूब अपमानित किया साथ ही इतिहास को तोड़ने और बदलने के साथ अमेठी में भी आपने राग,द्वेष और नफरत को खूब फैलाया अमेठी की धरती स्वामी परमहँस,महान सूफी संत कवि मलिक मोहम्मदजायसी,अमेठी राजपरिवार, तिलोई राजपरिवार, पंडित देवकली दीन, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी बाबू बैजनाथ सिंह बाबू गिरिराज सिंह,

राजा रुद्रप्रताप सिंह,रामसेवक धोबी ने भी अमेठी का प्रतिनिधित्व किया इस पवित्र धरती पर जनता की सेवा करने वाले गांधी परिवार की कर्म भूमि से जहां अमेठी विश्व पटल पर पहचान बनी

वहीं सम्पूर्ण अमेठी परिवार अपने लोक प्रिय सांसद उज्ज्वल भारत के भविष्य माननीय राहुल गांधी  के नाम पर अपना मान सम्मान व स्वाभिमान से अपने को गौरवान्वित महसूस करता है अमेठी परिवार अनिल सिंह प्रवक्ताजिला कांग्रेस कमेटी ने दी है

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments