मानवाधिकार दिवस पर एसो.ने अधिकारियों को भेंट किये पुष्प गुच्छ

मानवाधिकार दिवस पर एसो.ने अधिकारियों को भेंट किये पुष्प गुच्छ

उन्नाव। अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार के 71 वें स्थापना दिवस के अवसर पर भारतीय मानवाधिकार एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने जिला जज को पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया। वहीं डीएम को केंद्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा स्थापित कानून व्यवस्था के अनुपालन के बाबत राज्यपाल सम्बोधित चार सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंप कर मांग की। 

अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस पर भारतीय मानवाधिकार एसोसिएशन के प्रांतीय विधि सचिव बलवंत सिंह के नेतृत्व में पदाधिकारियों ने जहाँ जिला जज को पुष्प गुच्छ भेंटकर स्वागत किया तो वहीं जिलाधिकारी देवेंद्र कुमार पांडेय तो अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस को ही भूल गए।

भारतीय मानवाधिकार एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने जब डीएम साहब को पुष्प गुच्छ भेंट किया तो याद आया और बाद में महामहिम राज्यपाल सम्बोधित चार सूत्रीय ज्ञापन देना चाहा तो डीएम ने अपनी कुर्सी से उठना तक गंवारा नहीं समझा और चार सूत्रीय ज्ञापन को कुर्सी पर बैठकर ही लिया।

जिससे मानवाधिकार पदाधिकारियों ने माना कि जिलाधिकारी ने अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस के अवसर पर ही मानवाधिकार पदाधिकारियों के मौलिक अधिकारों का ही हनन कर दिया। जबकि पदाधिकारियों ने साहब से खड़े होकर ज्ञापन लेने के लिए अनुरोध किया।

उसके बाद भी डीएम श्री पांडेय ने कहा कि एक बार ही खड़े होते हैं और कुर्सी पर बैठकर ज्ञापन लिया। उसी चैम्बर में मौजूद नवागंतुक एसपी विक्रांत वीर व एडीएम राकेश कुमार सिंह को भारतीय मानवाधिकार एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने पुष्प गुच्छ भेंट किया।

पदाधिकारियों ने ज्ञापन में निम्न बिंदुओं पर पहला जनपद में औद्योगिक इकाइयों द्वारा प्रदूषण व प्रदूषित पानी को खुलेआम बहाने से भूमि बंजर होने से बचाव करना, दूसरा राज्य सरकार द्वारा जारी शासनादेश के अनुसार जिलास्तर पर सामाजिक स्वैच्छिक मानवाधिकार संगठनों को पुलिस द्वारा जिला व थाना स्तर सहित ग्राम सुरक्षा समिति समायोजन करने की मांग की है।

तीसरा प्रत्येक जिलों में महिला की हत्या बलात्कार के बाद हत्या संदिग्ध मौत सहित मारपीट दुघर्टनाओ में शारीरिक परीक्षण महिला चिकित्सक द्वारा कराना आदि शामिल हैं तथा चैथा मानवाधिकार संरक्षण अधिनियम की धारा-30 के तहत जनपद मुख्यालय पर अतिरिक्त विशेष मानवाधिकार न्यायालय व विशेष लोक अभियोजन नियुक्ति की मांग उठाई है।

मानवाधिकार दिवस पर जिला जज मो0 अजहर हुसैन इदरीसी ने कहा कि इस तरह मानवाधिकार आयोजनों को सामाजिक विकास व सुरक्षा दोनों के लिए जागरूक करने की जरूरत है। जिला जज ने भारतीय मानवाधिकार एसोसिएशन के पदाधिकारियों की सराहना कर समय-समय पर आयोजन करने की सलाह दी।

उन्होंने ऐसे कार्यक्रमों में न्यायिक अधिकारियों को भेजने का अश्वासन दिया। इस अवसर पर प्रांतीय विधि सचिव बलवंत सिंह एड0, वरिष्ठ उपाध्यक्ष जगन्नाथ मास्टर कृष्णपाल सिंह एड0, जिला उपाध्यक्ष राजेंद्र पाठक, हरिनाम सिंह, मीडिया प्रभारी अंशुमान अग्निहोत्री, अशोक सिंह गुड्डू, यदुवीर सिंह, राजेश कुमार एड0, अमर सिंह एड आदि मौजूद रहे।

Comments