प्रमुख सचिव ने महिला अस्पताल का निरीक्षण कर दिये निर्देश

प्रमुख सचिव ने महिला अस्पताल का निरीक्षण कर दिये निर्देश

उन्नाव।

नोडल अधिकारी श्रीमती बीना कुमारी मीना ने अपने तीसरे दिन के भ्रमण कार्यक्रम के दौरान जिला महिला अस्पताल का निरीक्षण किया जिसमें उन्होंने जच्चा-बच्चा, महिला वार्ड का निरीक्षण के दौरान कहा कि दो बेटियों वाली माताओं को मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना से लाभान्वित किया जाए।

उन्होंने सफाई व्यवस्था पर संतोष व्यक्त किया। अस्पताल की पुरानी बिल्डिंग होने के कारण उसकी मरम्मत के निर्देश दिए। उन्होंने उपस्थित महिलाओं के स्वास्थ्य का हाल-चाल लिया और उनको नियमानुसार पौस्टिक आहार वितरण की जानकारी ली। उन्होंने महिला मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को निर्देश दिए कि स्वास्थ्य से जुड़ी समस्त सुविधाएं जो सरकार द्वारा मुहैया कराई जा रही हैं उन्हें समयबद्ध तरीके से लाभान्वित किया जाए।इसके उपरांत नोडल अधिकारी ने महिला थाने का निरीक्षण कर महिलाओं की समस्याओं को जाना तथा उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिए कि महिला उत्पीड़न से संबंधित जो भी शिकायतें हैं उन्हें प्राथमिकता के आधार पर हल कराएं तथा अभिलेखों का गहन निरीक्षण भी किया।

उन्होंने कहा कि महिला थाना एवं अन्य थानों में महिलाओं से संबंधित जो भी शिकायतें आती हैं उन पीड़िता को त्वरित न्याय दिलाया जाए, यही सरकार की मंशा है। महिला थाने के निरीक्षण के दौरान महिला थाना प्रकोष्ठ एवं महिला सहायता प्रकोष्ठ एवं परिवार परामर्श केंद्र का भी निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि यह तो अच्छी बात है कि जो मुकदमा कोर्ट में चल रहे हैं उनका यही पर आपसी सुलह-समझौता कराकर समाधान हो रहा है और पीड़िता को समय एवं धन की बचत के साथ न्याय मिल रहा है।

उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि इसमें अधिक से अधिक सकारात्मक सहयोग प्रदान कर लोगों में खुशियां लाने का काम करें। नोडल अधिकारी को बताया गया कि जनपद के विभिन्न थानों में जनवरी 2019 से 18 अक्टूबर 2019 तक महिलाओं से संबंधित 893 अभियोग पंजीकृत किए गए जिसमें 169 आरोपपत्र, 259 अंतिम रिपोर्ट, 465 पीआई के तहत मामले निस्तारित किए गए। इस अवसर पर जिलाधिकारी देवेन्द्र कुमार पाण्डेय, पुलिस अधीक्षक माधव प्रसाद वर्मा, अपर जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी, थानाध्यक्ष व संबंधित अधिकारी/पुलिस कर्मी आदि उपस्थित रहे।

Comments