भाकियू ने बैठक कर सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा ज्ञापन 

भाकियू ने बैठक कर सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा ज्ञापन 

उन्नाव।

भारतीय किसान यूनियन ने मासिक बैठक कर सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन दिया। भाकियू की मांगो पर सख्त हुए सिटी मजिस्ट्रेट ने स्पष्ट तौर पर कहा कि लाभार्थियों व विधवाओं की पेंशन खाने वाले गुंडे प्रधान किसी भी कीमत पर बख्शे नहीं जायेंगे। 


थाना फतेपुर 84 ग्राम सभा पतौली के टांडा मिटा के प्रधान हसनेन अली पर लाभार्थी मोहनलाल ने लगाया आरोप कि अपने आपको साफ सुथरी छवि कहलाने वाले टांडा मिटा के प्रधान हसनेन अली अपने गुर्गों से कराते हैं वसूली और गरीबों को 4 साल से कर रहे हैं गुमराह अब ऐसे गुंडे प्रधानों के खिलाफ सख्त हुए सिटी मजिस्ट्रेट और कहा अगर लाभार्थी मोहनलाल के साथ कोई अनहोनी होती है तो इसके जिम्मेदार प्रधान व जिला पंचायत सेक्रेटरी व सीडीओ होंगे।

मासिक बैठक के दौरान भारतीय किसान यूनियन के जिला उपाध्यक्ष अंसार सिद्दीकी ने गरीब लाभार्थियों का मुद्दा उठाते हुए टंडा मिटा के प्रधान हसनैन अली के खिलाफ लाभार्थी मोहनलाल ने साल से गुमराह कर उनकी कॉलोनी को कटवाकर अपने चहेतों के नाम चढ़वा देने का आरोप लगाया।

एक तरफ तो केंद्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा 5 साल की प्रधानों की आय की जांच खंगले की बात कर रही है वही दूसरी और ग्राम सभा पतौली के प्रधान अपनी दबंगई से बाज नहीं आ रहे हैं। 

Comments