प्रधानमंत्री श्रम सम्मान योजना के तहत प्रशिक्षणार्थियो को दी गयी टूलकिट

प्रधानमंत्री श्रम सम्मान योजना के तहत प्रशिक्षणार्थियो को दी गयी टूलकिट

उन्नाव।

जिलाधिकारी देवेन्द्र कुमार पाण्डेय के निर्देशानुसार विकास भवन सभागार में जनपद के प्रशिक्षित जरी कारीगरों को टूलकिट वितरण विधायक सदर पंकज गुप्ता के कर कमलों से किया गया। उपायुक्त उद्योग ने अवगत कराया कि एक जनपद एक उत्पाद योजनान्तर्गत जनपद उन्नाव का चयन जरी.जरदोजी हस्तशिल्प हेतु किया गया है तथा उक्त योजनान्तर्गत ही वित्तीय वर्ष 2018.19 में जनपद के सुदूर क्षेत्रों के 100 जरी कारीगरों को 06 दिवसीय प्रशिक्षण उप्र कौशल विकास मिशन द्वारा प्रदान किया गया था

जिसमें से कुछ प्रशिक्षुओं को 1 अक्टूबर को लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री द्वारा टूलकिट वितरित किया जा चुका है। आज आयोजित कार्यक्रम में 35 हस्तशिल्पियों को विधायक ने सम्मानित किया। मुख्य अतिथि ने उपस्थित हस्तशिल्पियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि जनपद उन्नाव में कुछ समय पूर्व तक जरी जरदोजी का कार्य व्यापक स्तर पर होता था परन्तु औद्योगिककरण व आधुनिकता की बयार में हमारे हस्तशिल्पियों को उनके कार्य का वह प्रतिफल प्राप्त नहीं हो पाया

जिसके वे हकदार थे। परिणामतः उक्त कार्य सिमट कर कुछ हस्तशिल्पियों तक सीमित रह गया परन्तु प्रदेश सरकार द्वारा जनवरी 2018 में आरम्भ की गयी एक जनपद एक उत्पाद योजना से हस्तशिल्पियों में नवीन ऊर्जा का संचार हुआ है। अब सरकार के निर्देश पर विभाग के अधिकारी एक.एक हस्तशिल्पी के पास स्वयं पहुंच रहें है तथा उन्हें ऋण उपलब्ध कराने के साथ-साथ टूलकिट प्रशिक्षण में भी सम्मिलित कर रहें है।

उन्होनें कहा कि किसी भी योजना की वास्तविक उपलब्धि तभी समझी जाती है जब समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को उसका लाभ प्राप्त हो सकें। उन्होनें हस्तशिल्पियों को भरोसा दिलाया कि उनकें कार्य हेतु सदैव तत्पर है तथा कोई भी आवश्यकता पड़ने पर हस्तशिल्पी उनसे सम्पर्क कर सकते है। बैठक में सफीपुर मियागंज हैदराबाद आसीवन व सदर क्षेत्र के हस्तशिल्पिी उपस्थित रहें। बैठक के अंत में परियोजना निदेशक डीआरडीए ने मुख्य अतिथियों व समस्त हस्तशिल्पियों का धन्यवाद ज्ञापन किया।

Comments