वन विभाग की उदासीनता के कारण जा सकती है राष्ट्रीय पक्षी की जान

वन विभाग की उदासीनता के कारण जा सकती है राष्ट्रीय पक्षी की जान

अय्यूब खान

बिसवां, सीतापुर।

ग्राम बगहाढाक निवासी अजय वर्मा उर्फ गुड्डू  के यहां पला राष्ट्रीय पक्षी मोर बीते चार जून को  घायल हो गया था। अजय वर्मा ने गांव के ही व्यक्ति के खिलाफ मोर को मारने का आरोप लगाया है। मोर का एक पैर टूट गया तथा एक आंख फूट गयी थी।

अजय वर्मा ने बिसवां कोतवाली में बीते दिनों एक तहरीर दी थी।परंतु अजय वर्मा ने बताया कि पुलिस द्वारा कोई कार्यवाही नही की गई इस सम्बंध में शनिवार को वन विभाग  सांडा सकरन रेंज के वन दरोगा हिमांशु से जानकारी चाहा तो उन्होंने बताया कि इस सम्बन्ध में कोई सूचना नही मिली है।

जब पूरे मामले से उनको अवगत कराया गया तो उन्होंने कहा कि कल रविवार को कोई डॉक्टर नही मिलेगा इसलिए  सोमवार को उसका इलाज कराया जयेगा जब सोमवार को जानकारी ली गयी तो उन्होंने बताया कि में सीतापुर मीटिंग में हूँ मंगलवार को दिखाता हूँ। इससे यह साफ स्पष्ट हो रहा है। की अपने कार्य के प्रति कितना जिम्मेदार है

वन विभाग करीब एक सप्ताह से घायल पड़ा राष्ट्रीय पक्षी की कोई सुध लेने वाला नही है।जानकारी के अनुसार अजय वर्मा के पास मोर पालने का कोई भी परमिशन नही है।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments