स्वच्छ भारत अभियान और हम

स्वच्छ भारत अभियान और हम

स्वच्छ भारत अभियान की कल्पना को साकार करने हेतु देश के सभी प्रतिष्ठित, अग्रणी, भारत सरकार सहित सांकेतिक और विस्तृत रूप से निरंतर पिछले चार वर्षों से हमें प्रेरित कर रहे है।

हम भी अनुसरण करते हुए सांकेतिक सफाई कर न जाने किसे संदेश देना चाहते हैं। व्यवहारिक जीवन में छोटे बच्चों के सामने जिस प्रकार हम प्रस्तुत होते हैं वह भी नकल करते हुए वैसे ही हाव भाव दर्शाते हैं, किन्तु बच्चों की एक विशेषता रहतीं हैं कि वह सीखने की क्षमता के साथ कुछ नया करने के लिए हमेशा प्रयासरत रहते है।दुर्भाग्यवश हमारी स्थिति बिल्कुल विपरीत है हम लाख कोशिशों के बाद भी प्रयोगों को तो छोडिए बड़ी मुश्किल से नकल भी नहीं कर सकते।

क्या हम मीडिया के सभी मैदानों में मार्गदर्शक बन (स्कूल, कॉलेज व अन्य संस्थानों) के बच्चों को आगे कर, सस्ती लोकप्रियता का मोह छोड़ वास्तविकता में स्वच्छ भारत का सपना साकार कर इतिहास बनाने के लिए संकल्प लें सकते है?अन्यथा हास्यास्पद दृश्य सरकारी विभागों की कार्यशैली की तरह होगा जिसमें लगभग दस से बारह अधिकारी, कार्यालय सहित सिर्फ दो कर्मचारियों से काम करवाते देखे जा सकते है।

सकारात्मकता अपनाने हेतु पहले हर स्तर पर सोच परिवर्तित करने के लिए कार्यशालाओं का आयोजन करना होगा, युवा पीढ़ी, बच्चों सहित स्वयं को भी गन्दगी न करने बारे शिक्षित करना होगा।स्वच्छ भारत अभियान का सीधा संबंध हमारे वातावरण, सोच, स्वास्थ्य तथा पीढ़ियों से जुड़ा है। यह देशभक्ति, देवभक्ति व संस्कृति के प्रति हमारी निष्ठा से भी सम्बंधित है।वर्तमान जानवरों का नहीं हमारी विकृत सोच का बलिदान मांग रहा है, स्वयं बदले, सोच बदले, गंदगी फैलाने वालों को संरक्षण देने की जगह स्वच्छता हेतु प्रेरित करे।

सरकार से आग्रह है कि इस कार्यक्रम में सक्रियता से भाग लेने वाले आमजनों को प्रोत्साहित करे, यह कार्यक्रम जमीनी स्तर पर सफल हो इसलिए कानून के उचित प्रावधानों द्वारा दण्डित कर, पूरी सख्ती के साथ, अनुराग या द्वेष के बिना निपटा जाए।आशावादी हूँ, धीरे-धीरे ही सही यह स्वप्न अवश्य साकार होगा और हम सभी जनों को भविष्य में इस स्वच्छ क्रांति के इतिहास के वीर योद्धा के रुप में याद किया जाएगा।

- हितेन्द्र शर्मा

 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments