डेंगू पर प्रभावी नियंत्रण के लिए प्रमुख सचिव ने ली बैठक

डेंगू पर प्रभावी नियंत्रण के लिए प्रमुख सचिव ने ली बैठक

गौरव बाजपेयी

डेंगू ज्वर के प्रभावी नियंत्रण के लिए प्रमुख सचिवए चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग श्री देवेश चतुर्वेदी ने आज निर्देश  दिया कि प्रदेश के डेंगू प्रभावित जिलों में टीमें गठित कर युद्ध स्तर पर नियंत्रण की प्रभावी कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि डेंगू लार्वा नष्ट करने के लिए निरीक्षण दल गठित कर दिए जाएँ जो संस्थानों  एसार्वजानिक स्थलों एस्कूलों  जैसी जगहों पर जाकर मच्छर जनित स्थितियों का निरीक्षण करने के साथ .साथ उन्हें नोटिस देने तथा डेंगू लार्वा पाए जाने पर लार्वा नष्ट करने का कार्य भी करे।

देवेश चतुर्वेदी आज  विकास भवन स्थित अपने कार्यालय के सभाकक्ष में   नगर आयुक्तए नगर निगमए लखनऊए  महानिदेशकए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं एवं लखनऊध्कानपुर के मुख्य चिकित्साधिकारियों के साथ.साथ अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ डेंगू नियंत्रण पर समीक्षा बैठक कर रहे थे। 

बैठक में गहन विचार.विमर्श से यह स्पष्ट हुआ कि लखनऊ एवं कानपुर में डेंगू के मरीज काफी संख्या में पाये गये हैं  जिसके मद्देनज़र प्रमुख सचिव ने निर्देश दिया  कि लखनऊ में नगर निगम के जोनल अधिकारी एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य चिकित्साधिकारीध्उप मुख्य चिकित्साधिकारी की 08 संयुक्त टीमें गठित की जायंए जोकि डेंगू प्रभावित क्षेत्रों में स्थित भवनोंध्संस्थानोंध्स्कूलों में जाकर मच्छरजनित स्थितियों का निरीक्षण करें और मच्छरजनित परिस्थितियां पाये जाने पर इनके विरूद्ध एफ0आई0आर0 दर्ज कराने की कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि इसके लिए टीम के सभी अधिकारी प्रतिदिन 09ः00 बजे नगर निगम मुख्यालय पर उपस्थित होगें और वहाॅं से डेंगू प्रभावित क्षेत्रों में जायेंगे। 

नगर आयुक्त को निर्देशित किया गया कि स्वच्छता अभियान के साथ.साथ डेंगू नियंत्रण के उपायों के संबंध में भी नगर निगम द्वारा माईकिंग एवं कूड़ा उठाने वाली मशीन के माध्यम से सघन प्रचार.प्रसार कराया जायए ताकि नागरिकों का सक्रिय सहयोग प्राप्त हो सके।  

इसके अतिरिक्त यह भी निर्णय लिया गया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा गठित एण्टीलार्वा स्पे्र हेतु 65 टीमों के माध्यम से की जा रही कार्यवाही एवं नगर निगम द्वारा 35 वेहिक्लमाउन्टेड मशीन एवं 95 पल्सफाॅग मशीन से की जा रही फाॅगिंग की कार्यवाही यथावत जारी रखी जाय। 

बैठक में विचार.विमर्श के दौरान यह संज्ञान में लाया गया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा जयपुरिया स्कूल गोमतीनगरए क्राइस्ट चर्च स्कूल हजरतगंजए माऊन्ट फोर्ट कालेजए महानगरए यूनिटी कालेजए हुसैनाबादए सी0एम0एस0ए राजाजीपुरमए अतुल मेमोरियल स्कूलए ठाकुरगंजए इम्माथामसन स्कूलए लालबाग आदि विभिन्न स्कूलों में मच्छरजनित परिस्थितियों के निरीक्षण के लिए भेजी गयी टीमों द्वारा निरीक्षण किया गया और जहाॅ पर मच्छरजनित स्थितियां पायी गयी उन्हें नोटिस जारी किया गया। 

बैठक में  निरीक्षण में टीम के अधिकारियों ने अवगत कराया कि कुछ स्कूलों द्वारा उनके साथ सहयोग नहीं किया गया। इसमें जयपुरिया स्कूलए गोमतीनगर का दृष्टान्त भी बैठक में प्रस्तुत किया गयाए जहाॅ पर स्कूल के कर्मचारियों द्वारा टीम के सदस्यों के साथ अभद्र व्यवहार किया गया। प्रमुख सचिव ने कहा की यह एक गंभीर बात है। इस संबंध में यह निर्णय लिया गया कि डेंगू के नियंत्रण के लिए गठित टीमों द्वारा डेंगू प्रभावित क्षेत्र के सभी संस्थानोंध्स्कूलोंध्भवनों में युद्ध स्तर पर निरीक्षण की कार्यवाही की जाय और सहयोग न करने वाले संस्थानोंध्स्कूलोंध्भवन स्वामियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही यथा एफ0आई0आर0 दर्ज कराने की कार्यवाही की जाय।  राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशनए उ0प्र0 के प्रतिनिधि को निर्देशित किया गया कि डेंगू के नियंत्रण के लिए प्रदेश के सभी सिनेमा घरों में स्लाइड के माध्यम से डेंगू नियंत्रण के उपायों का प्रचार.प्रसार तत्काल प्रारम्भ कराया जाय।

Comments