उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल  ने नगर निगम मैं व्याप्त भ्रष्टाचार और अव्यवस्थाओं को लेकर नगर विकास राज्य मंत्री को ज्ञापन सौंपा

उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल  ने नगर निगम मैं व्याप्त भ्रष्टाचार और अव्यवस्थाओं को लेकर नगर विकास राज्य मंत्री को ज्ञापन सौंपा

शाहजहाँपुर

नगर निगम में व्याप्त भ्रष्टाचार और  फैली अव्यवस्थाओं को लेकर व्यापारियों में काफी रोष व्याप्त है इसको लेकर कई बार शासन प्रशासन को व्यापारियों द्वारा ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराया जा चुका है

आज फिर  प्रदेश के नगर विकास राज्यमंत्री  महेश गुप्ता के शाहजहांपुर आगमन पर नगर निगम में अधिकारियों कर्मचारियों की मनमानी को लेकर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल कंछल गुट के व्यापारियों  में जिलाध्यक्ष बेद प्रकाश गुप्ता व  महानगर अध्यक्ष सचिन बाथम के नेतृत्व में आठ सूत्रीय  मांगो का ज्ञापन उत्तर प्रदेश सरकार के नगर विकास राज्यमंत्री महेश गुप्ता को युवामहोत्सव के दौरान सौंपा। ज्ञापन में कहा गया कि नगर निगम में संपत्ति का दाखिल खारिज कराने हेतु एक प्रतिशत शुल्क जमा करना अनिवार्य कर दिया गया है

जो कि बहुत ज्यादा है। जिससे आम जनमानस व व्यापारियों में गहरा रोष है, नगर निगम में ठेके नहीं कराए जा रहे  तांगा, थ्री व्हीलर, रिक्शा पार्किंग आदि के ठेके नहीं होने के कारण राजस्व को नुकसान पहुंच  रहा हैं  नगर निगम द्वारा दवा का छिड़काव नहीं किया जा रहा है जिसके कारण मच्छरों का प्रकोप बढ़ रहा है डेंगू जैसी बीमारी नगर निगम में पैर पसार रही है पुराने खराब पड़े हैंडपंपों को सही नहीं कराया जा रहा  जिसके कारण शुद्ध जल की काफी दिक्कत है 

जगह-जगह अतिक्रमण है लेकिन कोई भी ठोस कार्यवाही नहीं हो रही नगर में लगी हाई मास्क लाइट वॉल स्ट्रीट लाइटें अक्सर खराब ही रहती हैं तमाम शिकायतों   के बावजूद भी महीनों निस्तारण नहीं किया जाता है नगर निगम के अंतर्गत नाले  एवं नालियां  गंदगी से भरी पड़ी हैं जिनकी तमाम शिकायतों के बावजूद नियमित सफाई नहीं हो रही  करोड़ों रुपए खर्च करके बनवाए गए इज्जत घरों में पानी की सुविधा आज तक उपलब्ध नहीं कराई गई है 

ना ही सफाई की व्यवस्था कराई जा रही है आम जनता बा जनमानस में गहरा रोष व्याप्त है नगर निगम शाहजहांपुर के पूरे नगर की गलियां पानी की पाइप लाइन पड़ने के कारण खोद कर डाल दी गई हैं जिसके कारण गलियां गड्ढों में तब्दील हो गई हैं जनमानस के नव निर्माण कार्य रुके हुए हैं, पूरे नगर का बुरा हाल है नगर निगम की कोई सुविधा नगर वासियों को नहीं मिल रही है  टेंडर आदि के विज्ञापन बिना रोटेशन सिस्टम के ऐसे अखबारों में प्रकाशित कर दिए जाते हैं

जो पब्लिक में नहीं जाते हैं और उस दिन गोल कर दिए जाते हैं । कई सरकारी विज्ञापन ऐसे अखबारों में प्रकाशित करवा दिए जाते हैं जिनकी मान्यता तक नहीं है। हर जगह मनमानी कर रहे है नगर निगम के अधिकारी। ज्ञापन देने वालों में सुरेंद्र सुरेंद्र सेठ, अमित गर्ग, अजय गुप्ता पोता, शशांक कौशिक, महेंद्र चावला, नासिर अली, शिव कुमार गुप्ता आदि दर्जनों व्यापारी मौजूद रहे।

Comments